EWS क्या है, कैसे बनाये – पूरी जानकारी हिंदी में

You are currently viewing EWS क्या है, कैसे बनाये – पूरी जानकारी हिंदी में

क्या अपने कभी EWS Certificate के बारे में सुना है? क्या आप जानते है, EWS Certificate kya hai और इसके क्या-क्या फायदे है? आज के इस आर्टिकल में हम आपको देश के इस नवनिर्मित कानून के बारे में ही जानकारी देंगे। अगर आप सामान्य वर्ग से है, तो आपको यह पता होना चाहिए कि भारत सरकार ने कुछ समय पहले ही सामान्य वर्ग के वह लोगों के लिए जिनकी स्थिति आर्थिक रूप से कमजोर है, उनके लिए देश में एक नए कानून का निर्माण किया है। यह कानून आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को आरक्षण प्रदान करने के लिए बनाया गया है, जो उन्हें उनकी आर्थिक रूप के आधार पर प्रदान किया जाएगा। इसका ऐलान माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने 12 जनवरी 2019 को ही कर दिया था।

इस आर्टिकल में हमने EWS Certificate से जुडी सम्पूर्ण महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान की है,जैसे कि EWS Certificate क्या है, EWS Certificate full form in hindi, EWS Certificate बनवाने के लिए कौन-कौन से डॉक्युमेंट्स की जरूरत रहती है आदि। कई बार लोगों को यह सब पता होता है लेकिन उन्हें यह जानकारी नहीं होती है कि EWS Kaise Banaye तो चिन्ता न करें दोस्तों हमने यहाँ आपको विस्तार में बताया है कि EWS Certificate के लिए कैसे अप्लाई करें। अगर आप भी सामान्य वर्ग से सम्बन्ध रखते हैं, तो आपको इसके बारें में इससे होने वाले फायदों के बारे में जरुर जानना चाहिए।

EWS की फुल फॉर्म क्या है (What is Full Form of EWS)

EWS की फुल फॉर्म “Economically Weaker Section” होती है।

EWS का हिन्दी अर्थ क्या है (EWS Full Form in Hindi)

EWS का हिंदी में अर्थ “आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग” होता है।

EWS क्या है (What is EWS in Hindi)

भारत सरकार ने सामान्य वर्ग सम्बंधित आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को आरक्षण देने के लिए ईडब्लूएस प्रमाण पत्र बनवाने का ऐलान किया है। EWS Certificate के द्वारा प्राप्त आरक्षण की सहायता से सामान्य वर्ग के गरीब युवा को नौकरी पाने में भी सहायता मिलती है। पहले केवल सामान्य वर्ग को छोड़कर अन्य सभी जातियों को आरक्षण की सुविधा प्रदान की जाती थी और इसी कारण सामान्य वर्ग के कुछ विद्यार्थियों को काबिल होने के बाद भी उन्हें वह नौकरी नहीं मिल पाती है, जबकि वह इसके हकदार होते हैं। इस कारण समाज में भेदभाव और असमानता की भावना उत्पन्न होती थी, जो कि आने वाले समय में देश के लिए घातक भी साबित हो सकती थी। लेकिन अब ऐसा नहीं है, अब सामान्य वर्ग के उन लोगों को भी आरक्षण प्राप्त होगा, जिन्हें इसकी आवश्यकता है।

EWS प्रमाण पत्र के उद्देश्य क्या है?

EWS प्रमाण पत्र का उद्देश्य सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के व्यक्तियों को आरक्षण प्रदान करना है। भारत सरकार द्वारा यह एक कोशिश है, सामान्य वर्ग के वह व्यक्ति जो आर्थिक रूप से कमजोर है, उन्हें आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की। EWS Certificate की सहायता से आपको 10 प्रतिशत का आरक्षण प्राप्त होता है। जिस से उन्हें भी आर्थिक करने से किसी भी क्षेत्र में पीछे न रहना पड़े।

सालों से मांग उठ रही थी की देश और समाज में आर्थिक रूप से कमजोर व्यक्ति जो सामान्य वर्ग के है, उन्हें भी अन्य जातियों के लोगों के समान आरक्षण प्रदान किया जाए ताकि सभी को समान अवसर प्रदान किये जा सकें और सभी को बराबर अवसर मिले। जैसा कि आप जानते है, एसटी, एससी और ओबीसी जाति वर्ग के लोगों को पहले से ही जाति के आधार पर आरक्षण प्राप्त है।

EWS प्रमाण पत्र कौन जारी करता है?

EWS प्रमाण पत्र राज्य सरकार द्वारा जारी किया जाता हैं। आप जिस राज्य के मूल निवासी हैं आप को वही की राज्य सरकार आपके लिए ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र जारी करेगी।

EWS Certificate की वैधता क्या है?

EWS Certificate की वैधता एक 1 वर्ष तक रहती है। यह वित्तीय वर्ष 1 अप्रैल से 31 मार्च तक के लिए बनाया जाता है। अगले वर्ष फिर से रीन्यू करना होता होता है।

EWS प्रमाण पत्र पात्रता क्या है (Eligibility Rules to Get EWS Certificate in Hindi)

केंद्र सरकार ने ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र बनाने के लिए कुछ निर्धारित की पात्रताएं निर्धारित गई है। यदि आप भारत सरकार द्वारा निर्धारित निर्देशों का पालन करते है, तो आप अपना ईडब्ल्यूएस प्रमाणपत्र बनवा सकते है। आइये जानते है, इन निर्देशों के बारे में।

  • EWS Certificate बनवाने के लिए आवेदक के परिवार की सालाना आय 8 लाख रुपए से कम होनी चाहिए।
  • आवेदक का घर एक हजार वर्ग फुट से कम का होना चाहिए।
  • जो आवेदक ग्रामीण क्षेत्र में रह रहे हों उनके पास 200 वर्ग गज से ज्यादा का घर नहीं होना चाहिए।
  • आवेदक के पास 5 एकड़ से कम कृषि भूमि होनी चाहिए।
  • इसके आलावा जिन आवेदकों के पास 209 गज की गैर-अधिसूचित जमीन होगी या 109 गज से कम अधिसूचित जमीन निगम क्षेत्र की नजर में होगी वही आवेदक ईब्ल्यूएस प्रमाण पत्र को बनवाने का अधिकार होगा।

यह कुछ निर्देश हैं, जो भारत सरकार द्वारा जारी किए गए है, यदि आवेदक भारत सरकार द्वारा निर्धारित की गई इन सभी शर्तों को पूरा करते है, तो वह EWS Certificate बनवाकर 10 प्रतिशत आरक्षण का फायदा ले सकता है। इन निर्देशों की जानकारी आप अपने नजदीक में सम्बंधित कार्यालय से भी प्राप्त कर सकते हैं। कुछ राज्यों में वहां की सरकार द्वारा इसकी पात्रता में अपने राज्य के मुताबिक ने बदलाव भी किये हैं।

EWS Certificate हेतु आवश्यक दस्तावेज क्या है?

अगर आप सामान्य वर्ग से है और आर्थिक रूप से कमजोर है, तो आप को ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट बनवा सकते है। EWS Certificate बनवाने के लिए आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होती है।

  • पहचान पत्र की एक फोटोकॉपी (आधार कार्ड, वोटर आईडी आदि )
  • पैन कार्ड
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र
  • स्व घोषित शपथ पत्र जाति प्रमाण पत्र
  • बैंक स्टेटमेंट
  • मूल / स्थायी निवास प्रमाण पत्र
  • जमीन व सम्पती से जुड़े दस्तावेज
  • एम्प्लॉयमेंट सर्टिफिकेट

EWS Certificate कैसे बनाएं (How to Make EWS Certificate in Hindi)

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट (EWS Certificate) के लिए आवेदन करने के लिए ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीकों का उपयोग किया जा सकता है। आइये जानते है कि ऑफलाइन माध्यम से EWS Certificate के लिए आवेदन कैसे किया जा सकता है।

EWS Certificate के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें?

EWS Certificate के लिए ऑफलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको EWS Certificate आवेदन पत्र प्राप्त करना होगा, यह आवेदन पत्र आप किसी ईमित्र अथवा सम्बन्धित कार्यालय से भी प्राप्त कर सकते हैं।

  • इस आवेदन पत्र में पूछी गयी सारी जानकारी भर दें।
  • अब इससे सम्बन्धित सभी आवश्यक दस्तावेजों को भी इस आवेदन पत्र के साथ संलग्न करें।
  • अब आप EWS Certificate Application Form को जिला मजिस्ट्रेट / अपर जिलाअधिकारी / कलेक्टर / अतिरिक्त डिप्टी कमिश्नर के पास / उप-विभाग अधिकारी के कार्यालय में / तहसीलदार के पास अथवा तहसील में जमा करा दें।

इस तरह आपके ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हो जाती है। 15 से 20 दिनों के भीतर ही आपका EWS प्रमाण पत्र बन जायेगा।

EWS Certificate के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (How to Apply Online EWS Certificate)

EWS Certificate के लिए आवेदन करने के लिए अभी कोई ऑनलाइन तरीका उपलब्ध नहीं है, लेकिन हो सकता है कि कुछ समय बाद यह सम्भव हो सके। फिलहाल आपको EWS आवेदन पत्र की हार्ड कॉपी लेकर उसमें मांगी गई जानकारी भरकर सम्बंधित दस्तावेजों के साथ संलग्न करके उसे ऑफलाइन तरीके से ही सम्बंधित कार्यालय में जमा कराना होगा।

EWS Certificate के क्या फायदे है?

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र से होने वाले फायदे निम्नलिखित है।

  • सामान्य वर्ग के आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को10 प्रतिशत आरक्षण प्राप्त होगा।
  • इस प्रमाण पत्र से आर्थिक रूप से कमजोर सामान्य वर्ग के लोगों को सरकारी नौकरी में भी आवेदन से लेकर प्रमोशन आदि सभी जगह लाभ प्राप्त होगा।
  • सामान्य वर्ग से होने के कारण वह लोग जिनके आर्थिक रूप से कमजोर होने के बावजूद भी जो सुविधाएं उन्हें मिलनी चाहिए, उनसे वंचित रह जाते थे। लेकिन अब उन्हें उन सुविधाओं और अवसरों से वंचित नहीं रहना पड़ेगा।
  • EWS प्रमाण पत्र के द्वारा सामान्य वर्ग से सम्बंधित विद्यार्थी अब विभिन्न क्षेत्रों जैसे प्रतियोगी परीक्षा, स्कूल, कॉलेज आदि में भी लाभ प्राप्त होगा।
  • सामान्य केटेगरी से होने के कारण अन्य वर्गों की तुलना में जिन अवसरों से वंचित रह जाते थे, आरक्षण प्रमाण पत्र के जरिए अब वह उन अवसरों का लाभ उठा सकेंगे।

EWS Certificate Helpline Toll Free Number

EWS Certificate से सम्बंधित शिकायत या सहायता के लिए भारत सरकार ने इस विभाग के लिए दो हेल्पलाइन नम्बर भी निर्धारित किए है, जिन पर ईडब्लूएस प्रमाण पत्र से सम्बंधित शिकायत या मदद के लिए कॉल कर सकते हैं। EWS Certificate के लिए यह कस्टमर केयर नम्बर 9818154069 तथा 8800355192 है। इन हेल्पलाइन नम्बर पर आप केवल सोमवार से शुक्रवार और केवल कार्य दिवसों पर ही कॉल कर सकते हैं। इन नम्बर पर कॉल करने का समय भी तय है, आप केवल सुबह 10:00 बजे से शाम 5:00 बजे के बीच ही कॉल कर सकते हैं।

FAQ: EWS Certificate से जुड़े सवाल-जवाब

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र क्या है?

ईडब्ल्यूएस सर्टिफिकेट केवल सामान्य वर्ग में आने वाले आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के छात्रों के लिए जारी किया जाने वाला प्रमाण पत्र है। इस प्रमाण पत्र के माध्यम से वह छात्र राज्य या फिर केंद्र सरकार द्वारा निकाली जा रही नौकरियों आरक्षण प्राप्त कर सकते है।

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र कौन बनवा सकता है?

ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र केवल सामान्य वर्ग (general category) में आने वाले छात्र ही बनवा सकते है।

क्या EWS Certificate के लिए ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है?

नहीं, ईडब्ल्यूएस प्रमाण पत्र बनवाने के लिए आपको ऑफलाइन ही आवेदन करना होगा।

Conclusion

अब आप समझ ही गए होंगे कि EWS kya hai, EWS full form in Hindi और इसके क्या-क्या फायदे हैं? जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने सामान्य वर्ग के लोगों के लिए EWS Certificate द्वारा आरक्षण प्रदान करने की इस योजना की शुरुआत की। इसके अंतर्गत भारत सरकार द्वारा अब सामान्य वर्ग के उन लोगों को भी आरक्षण प्रदान किया जाएगा जो कि आर्थिक रूप से कमजोर है। चाहे आप भारत देश के किसी भी राज्य से हो आप ईडब्लूएस प्रमाण पत्र का लाभ उठा सकते हैं। इसके साथ ही आपको EWS Certificate के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया और उसके लिए आवश्यक दस्तवेज के बारे में भी बताया गया है।

इस आर्टिकल में हम आपको Economically Weaker Section (EWS) के बारे में सम्पूर्ण जानकारी दी गई है। जैसे आप इसके लिए आवेदन कैसे कर सकते हो, इसके क्या लाभ हैं, प्रमाण पत्र हेतु पात्रता नियम क्या हैं तथा क्या-क्या दस्तावेज चाहिए आदि। आपको यह आर्टिकल कैसा लगा कमेन्ट करके जरूर बताए और साथ ही अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें।

Leave a Reply