Metaverse क्या है ? कैसी होगी हकीकत से आगे की दुनिया, पूरी जानकारी

You are currently viewing Metaverse क्या है ? कैसी होगी हकीकत से आगे की दुनिया, पूरी जानकारी

Metaverse यह एक ऐसा नाम है जिस पर आजकल बहुत चर्चाएँ हो रही है। हाल ही में Facebook ने भी अपना नाम बदलकर Meta कर दिया है जो Metaverse  से ही लिया गया है, तो क्या आप जानते है Metaverse kya hai (What is Metaverse in Hindi) जिसके कारण फेसबुक जैसी इतनी बड़ी कंपनी ने भी अपना नाम बदलकर उसके नाम पर रख लिया। अगर नहीं तो आपका जानना बेहद जरूरी है कि Metaverse क्या है क्योंकि आने वाले समय में यहीं भविष्य है। आज के हमारे इस लेख में आपको मेटावर्स (Metaverse in Hindi) से जुडी सारी जानकारी मिलेगी।

दोस्तों Metaverse कोई कंपनी नहीं बल्कि एक अनोखी दुनिया का नाम है जो दिखने में तो वास्तविक दुनिया जैसी ही ही होगी लेकिन वास्तविक दुनिया से बिल्कुल अलग होगी। यह इंटरनेट की काल्पनिक दुनिया है, जिसमें आप वास्तविक दुनिया की तरह ही सभी काम कर सकते हैं। यहाँ आप अपने सभी काम ऑनलाइन कर सकते है फिर चाहे आपको अपने किसी दोस्त से मिलना हो या कहीं जाना हो। शॉपिंग करनी हो या कपड़ों का ट्रॉयल लेना होना, गेम खेलना हो।

यह बिल्कुल अकल्पनीय है। यह बिल्कुल ठीक वैसा ही है जैसे सालों पहले लोगो के लिए इंटरनेट था। अगर इसे भविष्य की दुनिया कहा जाए तो बिल्कुल गलत नहीं होगा।

Metaverse क्या है ? (What is Metaverse in Hindi)

Metaverse दो शब्दों से जुड़कर बना है पहला “Meta” और दूसरा “Verse” यहाँ Meta एक ग्रीक भाषा का शब्द अंग्रेजी में इसका मतलब ‘Beyond’ होता है। जिसका हिंदी अर्थ है ‘कल्पना से परे’ जबकि Verse जिसका अर्थ है, यूनिवर्स है। यानी मेटावर्स से मतलब एक ऐसे यूनिवर्स जो हमारी कल्पना से परे हो। एक ऐसी Advance Tecnology जो की भविष्य में हमें वास्तविक दुनिया मैं रहकर एक ऐसी काल्पनिक दुनिया से जोड़ सकें जो बिल्कुल वास्तविक अनुभव प्रदान करती हो।

Metaverse वर्चूअल और ऑगमेंट रीऐलिटी (AR) को एक साथ जोड़ कर तैयार किया गया एक प्रकार का Digital Intersection हैं। मेटावर्स भविष्य की एक ऐसी वर्चुअल दुनिया है, जिसका आप अंदाजा भी नहीं लगा सकते है। यह बिल्कुल ठीक वैसा ही है जैसे सालों पहले लोगो के लिए इंटरनेट था। सरल शब्दों में कहा जाये तो मेटावर्स का मतलब है ”हकीकत से आगे की दुनिया”

Metaverse Advanced Artificial intelligence (AI) टेक्नोलॉजी द्वारा तैयार किया गया वर्चुअल वर्ल्ड एनवायरमेंट है जो बिल्कुल असली दुनिया की तरह अनुभव देता है। इसमें लोग इंटरनेट के जरिए एक्सेस कर सकते हैं। मेटावर्स 3D आभासी दुनिया का एक नेटवर्क है जो सोशल कनेक्शन और सोशल एक्टिविटीज पर केंद्रित है। यह ऐसा प्लेटफॉर्म होगा जहां आप रियल लाइफ तरह ही कही भी जा सकते हैं किसी से भी मिल सकते हैं और एक साथ काम कर सकते हैं, खा सकते हैं, खेल सकते हैं, खरीददारी कर सकते हैं। इस दुनियां में आप रियल लाइफ की तरह ही किसी भी चीज को यहाँ तक कि गाड़ियां और मकान भी खरीद सकते हैं और उस गाड़ी को लेकर घूम सकते हैं, मकान में रह सकते हैं।

भविष्य में इसी तरह आपको शॉपिंग करनी हो, ऑफिस मीटिंग्स अटेंड करनी हो या स्कूल क्लासेज आयोजित करनी हो, कोई शादी समारोह में शामिल होना हो या किसी से मिलना हो आपको कोई भी काम करना हो आप वह सभी काम मेटावर्स में कर सकते है। मेटावर्स की 3D दुनिया में आप होलोग्राम की सहायता से शामिल हो सकते हैं।यह सब बिल्कुल रियल अनुभव देगा। आइये अब जानते हैं कि मेटावर्स की शुरुआत कहाँ से हुई।

मेटावर्स की उत्पत्ति कैसे हुई ?

पहली बार ”मेटावर्स” नाम का जिक्र 1992 में साइंस फिक्शन लेखक नील स्टीफेन्सन द्वारा लिखित एक उपन्यास “स्नो क्रैश” (Snow Crash) में किया गया था। उपन्यास में “Meta” और “Universe” नाम के दो बंदरगाहों का जिक्र था “मेटावर्स” शब्द की उत्पत्ति यहीं से हुई है। इस उपन्यास में लेखक नील स्टीफेन्सन ने असल दुनिया के साथ ही इंटरनेट की एक ऐसी आभासी दुनिया की कल्पना की थी, जिसमें इंसान जगह बैठा रहे लेकिन उस आभासी दुनिया उस व्यक्ति का 3D अवतार कहीं भी पहुंच जाए।

इसी प्रकार पहले एक नोवेल में क्रिप्टो करेंसी का भी जिक्र किया गया था और आज क्रिप्टो करेंसी एक हकीकत बन चुकी है। ठीक इसी तरह भविष्य में आने वाले समय में एक वर्चुअल दुनिया हकीकत में हमारे सामने होगी जिसे “मेटावर्स” के नाम से जाना जायेगा। आइये अब जानते है कि मेटावर्स की यह आभासी दुनिया दिखने में कैसी होगी इसमें आपको क्या-क्या फीचर्स देखने को मिलेंगे?

कैसी होगी मेटावर्स की 3D दुनिया?

Metaverse के बारे में इतना सब जानने के बाद आप भी जानना चाहते होंगे कि Metaverse की काल्पनिक दुनिया जो कि बिल्कुल असली दुनिया जैसा अहसास करायेगी। यह वर्चुअल वर्ल्ड दिखने में हुबहु असली दुनिया की तरह होगीा जहाँ आप रियल लाइफ की तरह ही कुछ भी कर सकते है। 

मेटावर्स की दुनिया कैसी होगी इसे हम एक उदाहरण की सहायता बड़ी आसानी से समझ सकते है। मान लीजिये कि आपके किसी दोस्त की शादी है तो रियल लाइफ में आपको खुद शादी में जाना पड़ता है और इसी तरह सभी लोग इकट्ठा होते हैं, सब कुछ असल में होता है। लेकिन मेटावर्स की वर्चुअल दुनिया में ऐसा नहीं है। मेटावर्स में आप अपने 3D अवतार के जरिए घर पर बैठे-बैठे ही शादी में शामिल हो सकते है। इसी तरह बाकी मेहमान और हो सकता है कि दूल्हा-दुल्हन भी अपने घर पर ही रहें और वर्चुअल तरीके से अपनी-अपनी 3D इमेज के जरिए इकट्ठा होकर ही बातें और अन्य रस्मों-रिवाज करें। आइये अब जानते है कि Metaverse में क्या-क्या ऐसी चीजें होंगी और यह असल में कैसा दिखाई देगा।

Avatars/Character

Metaverse में आपको लोगों के 3D प्रतिरूप देखने को मिलेंगे जिन्हें हम “Avatars” कहते है। मेटावर्स में उपयोगकर्ता को अवतार के रूप में दर्शाया जायेगा जो कि दिखने में बिल्कुल असल व्यक्ति के जैसा ही होगा। यदि users चाहें तो अपने हिसाब से इन avatars को customized भी कर सकते हैं और इस तरह वह किसी भी personalities और physical characteristics को धारण कर सकते हैं।

मेटावर्स आपको एक ऐसा प्लेटफॉर्म उपलब्ध कराता है जहाँ आपके avatar अन्य दूसरे avtars के साथ इन्ट्रैक्ट भी कर सकते हैं। इसके भीतर आप आसानी से अलग-अलग Components के भीतर आ जा सकते हैं। वैसे तो आज के समय में भी हम कुछ जगहों में metaverse के components का use कर रहे हैं जैसे कि games, virtual shopping, casinos, concerts और casinos लेकिन यह बस कुछ क्षेत्रों तक सीमित है।Metaverse ही वह प्लेटफॉर्म है जो कि इस क्षेत्र को असीमित करेगा और हम उस आभासी दुनिया में अपने avtar में कहीं भी जाने में सक्षम होंगें।

Horizon World & Horizon Home

जैसे ही आप अपने 3D अवतार के साथ मेटावर्स की दुनिया में कदम रखेंगे आप एक घर के अंदर होंगे, इस घर को होराइजन होम कहा जाएगा। यहाँ थीम के रूप में आपको कुछ ऑप्शंस दिए होंगे जिनकी सहायता से आप इस घर को आप अपने हिसाब से डिजाइन भी कर सकते हैं। अभी आपको बस कुछ लिमिटेड ऑप्शन ही मिलेंगे लेकिन समय के साथ जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी विकसित होती जाएगी वैसे-वैसे आपको नए-नए कांसेप्ट और थीम्स मिलेंगे जिनका उपयोग आप अपनी इच्छानुसार कर सकते हैं। जिस तरह रियल वर्ल्ड में आपका अपना घर आप होता है, ठीक उसी प्रकार से मेटावर्स की वर्चुअल दुनिया में आपका अपना घर होगा और आप चाहें तो इसे बेच भी सकते हैं। यदि आप इसके अलावा और भी कोई प्रॉपर्टी खरीदना चाहें तो आप वह भी खरीद सकते हैं।

Virtual reality

मेटावर्स आपको एक ऐसा एन्वॉयरमेन्ट प्रदान करता है जो कि आपको आभासी वास्तविकता का अनुभव करवाता है। इंटरनेट की इस काल्पनिक दुनिया में आप वह सभी काम कर सकते है जो आप रियल लाइफ में करते है। यह सब असल में तो नही होगा लेकिन आपको वास्तविकता का अनुभव करायेगा जैसे कि आप हर काम असल में कर रहे हो। 

Unlimited Functionality

मेटावर्स की वर्चुअल लाइफ में यूजर को अपनी इच्छानुसार काम करने की पूरी छूट होगी। यूजर जो चाहे वह कर सकता है उस पर कोई रोक-टोक नहीं होगी। इसमें यूजर को बहुत सारे फंक्शन्स दिए हुए होंगे जिनका उपयोग यूजर अपनी इच्छानुसार कर सकता है।

Privacy and Safety

फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग जिनका मटावर्स बनाने में एक बड़ा योगदान है उनका कहना है कि मटावर्स प्राइवेसी और सेफ्टी पर पहले दिन से ही ध्यान दिया जा रहा है जहाँ तक सम्भव हो वहाँ तक यूजर की सभी जानकारी निजी रखी जाएगी। साथ ही उनकी सेफ्टी का भी पूरा ख्याल रखा जाएगा। इसमें सभी चीजें ऐसे काम करेगी जैसे कि रियल वर्ल्ड में काम करती है। जिस प्रकार आप व्हाट्सप्प, फेसबुक पर किसी को ब्लॉक कर देते है तो वह फिर आपसे कनेक्ट नहीं कर पाता है ठीक उसी प्रकार यदि आप मेटावर्स में किसी व्यक्ति को ब्लॉक कर देंगे तो वह फिर कभी दोबारा आपके सामने कभी नहीं आएगा।

इन सभी बातों से आप इस बात का अंदाजा लगा सकते हैं कि भविष्य में आने वाली मेटावर्स की दुनिया कैसी रहेगी। यह कुछ टेक्नोलॉजी के विकास के साथ-साथ मेटावर्स का विकास बड़ी तेजी से हो रहा है। कुछ समय पहले हॉलीवुड फिल्म बनी थी ‘अवतार’ जिसे दुनियाभर के लोगों द्वारा बहुत पसंद किया गया था। इस फिल्म की कहानी वर्चुअल दुनिया पर ही आधारित थी।

ऑनलाइन वीडियो गेम्स पहले से ही वर्चुअल वर्ल्ड का कॉन्सेप्ट अपना चुके है। जिनमें प्लेयर गेम में 3D अवतार के जरिए गेम खेलता है। बहुत ही जल्द यह पूरी दुनिया के सामने आएगी और आम लोग भी इस आभासी दुनिया का लुफ्त उठा सकेंगे। हो सकता है कि कुछ लोगों को आज यह बातें झूठी या बहुत ज्यादा बढ़ा-चढ़ाकर बताई हुई लग रही हो लेकिन भविष्य में हमारे लिए यह आम बात हो जाएगी। 

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मेटावर्स की दुनिया बननी शुरू भी हो गई है काफी समय से इस पर काम चल रहा है और अब तो आये दिन इसकी खबरें चर्चा में रहती है। हाल ही में एक एपिक गेम्स जो कि एक गेमिंग कंपनी है। इसने बीते दिनों एक म्यूजिक कंसर्ट आयोजित किया था जो कि पूरी तरह से वर्चुअल था। इस कंसर्ट में लोगों और पॉप स्टार ने 3D अवतार के जरिए ही हिस्सा लिया था। मतलब कि असल दुनिया में तो वह घरों में बैठे हुए थे लेकिन मेटावर्स की वर्चुअल दुनिया में वह अपनी 3D इमेज के जरिए कंसर्ट में पॉप स्टार के साथ नाच रहे थे।

मेटावर्स के पश्चात जीवन में क्या बदलाव आएगा? 

मेटावर्स आने वाले समय में पूरी दुनिया को बदलकर रख देगा। इंसान घर बैठे-बैठे ही कुछ भी काम कर पाएगा। इस टेक्नोलॉजी के पश्चात लोगों के पलक झपकते ही उनकी पसंदीदा चीज उनके सामने उपलब्ध होगी। वर्तमान समय में आप मोबाइल फोन के माध्यम से वीडियो कॉल के द्वारा अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से जुड़े रहते है जबकि मेटावर्स के दौर में आप पलक झपकते ही उनके पास जा सकते है, उनसे मिल सकेंगे। आज आप घर बैठे ऑनलाइन शॉपिंग तो कर सकते है लेकिन मेटावर्स की दुनिया में आप अपने 3D अवतार के जरिए शॉप पर जाकर कपड़ो ट्रायल भी ले सकते हैं और शॉपिंग भी कर सकते हैं। यह सभी काम बिल्कुल वैसे होंगे जैसे कि वर्तमान में रियल लाइफ में किये जाते है। 

मेटावर्स की विशेषताएं क्या है ?

  • मेटावर्स में आप 3D टेक्नोलॉजी के द्वारा अपना खुद का एक वर्चुअल अवतार बना सकते हैं।
  • मेटावर्स आ जाने बाद समय की बचत होगी और इंसान पलक झपकते ही अपनी मनपसंद चीज पा लेगा। 
  • मेटावर्स की दुनिया में आप घर बैठे ही मीलों दूर बैठे अपने रिश्तेदारों और मित्रों से आसानी से जुड़ पाएंगे।
  • मेटावर्स की सहायता से आप घर बैठे ही मीटिंग्स अटेंड करना, गेम खेलना और शॉपिंग से जुड़े आदि सभी काम कर सकते हैं।
  • इंटरनेट की इस आभासी दुनिया में आप कपड़े, खाना जैसी चीजें ही बल्कि हर चीज खरीद सकते हैं इनमें गाड़ियाँ, जमीन, घर आदि सभी चीजें शामिल है।
  • इस वर्चुअल लाइफ में आप घर बैठे ही गेट टुगेदर, शादी-समारोह में शामिल हो सकते हैं, आप कॉन्सर्ट्स यहाँ तक कि वर्ल्ड टूर और भी कई सारी चीजों का लुफ्त उठा सकते हैं।

मेटावर्स से होने वाले आलोचना और चिंताएं

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हर सिक्के के दो पहलू होते है जैसे कि अगर किसी चीज के कुछ फायदे हैं, तो उसके कुछ नुकसान भी होंगे। मेटावर्स आने के बाद लोग अपना ज्यादा से ज्यादा समय इसी पर बितायेंगे और इस कारण उनकी असल और निजी जिंदगी पर अलग तरह के प्रभाव पड़ेगा। मेटावर्स के बाद जिंदगी बिल्कुल बदल जायेगी। आइये जानते है कि इसके आलोचना और चिंताएं क्या-क्या हो सकती है।

  • मेटावर्स के लिए सूचना को गोपनीय बनाये रखना एक बड़ी चिंता का विषय है क्योंकि इस पर अनेकों कंपनियां एक साथ मिलकर काम कर रही है जो कि कई कार्यों के लिए उपयोगकर्ताओं की व्यक्तिगत जानकारी एकत्र कर सकती है ऐसे में यहाँ कुछ भी निजी नहीं रहेगा और व्यक्तिगत गोपनीयता को नुकसान पहुँचने की भारी संभावना है।
  • लम्बे समय तक इसका उपयोग करने से उपयोगकर्ता इसकी लत भी लग सकती है जो कि चिंता का एक बड़ा कारण है। इससे उन्हें मानसिक और शारीरिक तनाव का सामना करना पड़ सकता है, जैसे कि अवसाद, चिंता, और एक गतिहीन जीवन शैली आदि जैसे कई अन्य नुकसान। 
  • लोग अपना अधिकतर समय स्क्रीन पर बिताने लगेंगे जिससे उनकी आँखों और मस्तिष्क पर गहरा प्रभाव पड़ सकता है।
  • सारे काम घर बैठे-बैठे ही करने से एक तरह से उनमें आलस्य पैदा हो जायेगा और उनकी रियल और सोशल लाइफ एक तरह से खत्म ही हो जाएगी।
  • इनके अलावा सब कुछ ऑनलाइन रहेगा हो सकता है भविष्य में इस कारण कई अपराधों को भी बढ़ावा मिल जाये।
  • गलत सूचना के प्रसार भी एक चिंता का विषय है।

यह सभी बातें है जो मेटावर्स के लिए एक चिंता का विषय है। लेकिन अभी बस हम इनके बारे में अंदाजा लगा सकते हैं इसके नुकसान तभी सामने आयेंगे जब हम इसका उपयोग करना शुरू करेंगे। 

क्या Metaverse Safe है ?

क्योकि Metaverse इंटरनेट की दुनिया होगी और इसलिए कई  लोगों के मन में यह सवाल आता है कि क्या यह सेफ है। तो दोस्तों हम आपको यह बता दे कि ऐसा कुछ नहीं है। Metaverse इंटरनेट से जुडी अन्य चीजों के मुकाबले अधिक सुरक्षित होगा। इसमें सभी चीजें एक साथ जुडी रहेंगी यदि कोई इसे हैक भी करना चाहें तो वह आसान नहीं होगा क्योंकि हैकर को पूरा डेटा डाउनलोड करना होगा जो कि बेहद मुश्किल है।

इसके अलावा क्योकि यह AI द्वारा निर्मित किया गया है। इस तरह हम यह कह सकते है कि Metaverse आपके लिये एक safe जगह होगी। लेकिन यह पूरी तरह सेफ है यह कहना अभी गलत होगा। क्योंकि जैसा कि हम सब जानते हैं कि यदि कोई चीज इंटरनेट से जुडी है तो वह कभी भी पूरी तरह सुरक्षित नहीं हो सकती है। इसलिए हो सकता है कि आपको इसमें थोड़ा खतरा देखने को मिले। Metaverse कितना सुरक्षित है और इसमें कितने खतरे है यह तो भविष्य में इसका उपयोग करने पर ही पता लगेगा।

Facebook का नया नाम “Meta”

हाल ही में Facebook ने अपना नाम बदलकर “Meta” रख दिया है। कुछ समय पहले ही 28 October को फेसबुक के CEO मार्क जुकरबर्ग ने आधिकारिक रूप से इसकी घोषणा की थी। Meta नाम मेटावर्स से लिया गया है। Metaverse कॉन्सेप्ट की तेजी से बढ़ती पॉपुलरिटी को देखकर और इंटरनेट की दुनिया में मेटावर्स का भविष्य देखकर Facebook ने यह कदम उठाया है। लेकिन एप्लीकेशन में कोई भी बदलाव नही किया गया है। बस जब आप App ओपन करते है तो Footer में Facebook की जगह अब आपको From Meta लिखा हुआ दिखाई देगा। फेसबुक के फाउंडर मार्क जुकेरबर्ग मेटावर्स को हकीकत बनाने के लिए 50 मिलियन डॉलर की रकम का बड़ा निवेश कर रहे हैं।

Conclusion

Metaverse टेक्नोलॉजी द्वारा तैयार किया गया एक ऐसा प्लेटफॉर्म है जो भौतिक और डिजिटल दुनिया का एक अद्भुत संगम है। इस प्रकार इसे हम इंटरनेट की दुनिया कह सकते हैं। जिसमें सभी काम ऑनलाइन किये जाते है जो एक असली दुनिया का अनुभव कराते है। इंटरनेट के जरिए आप इस दुनिया को देख सकते हैं इसमें जी सकते हैं। मेटावर्स के कांसेप्ट के लिए आपको होलोग्राफिक स्क्रीन का इस्तेमाल करना होगा।

उम्मीद है कि अब आप समझ गए होंगे कि मेटावर्स का मतलब क्या है (Metaverse meaning in Hindi) यह किस तरह काम करेगा। आपको मेटावर्स (Metaverse in Hindi) पर हमारा यह लेख कैसा लगा। कमेन्ट करके जरूर बताएं। साथ ही इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें और यदि आपके मन में कोई सवाल हो तो आप हमसे कमेन्ट करके पूछ सकते है।

Jay Kanwar

Jay Kanwar is an professional blogger. She loves reading and learning new tech. She contributes most of the tech and informative articles on this blog.

Leave a Reply