Affiliate Marketing क्या है? पूरी जानकारी

You are currently viewing Affiliate Marketing क्या है? पूरी जानकारी

दोस्तों आप सबको पता ही होगा कि आजकल हर काम ऑनलाइन हो रहा है। कपड़ों से लेकर खाने तक कि खरीदारी ऑनलाइन हो रही है। अब जब ऑनलाइन पैसे खर्च करने के साधन बढ़े हैं तो उसके साथ ही ऑनलाइन पैसा कमाने के साधन भी बढ़े हैं। ऑनलाइन पैसा कमाने के कई तरीके हैं उन्हीं में से एक है Affiliate Marketing है। क्या आप जानते हैं की affiliate marketing क्या है, आज के इस लेख में हम इसी बारे में जानेंगे।

आपने एफिलिएट मार्केटिंग का नाम कहीं न कहीं जरूर सुना होगा, हो सकता है कि आपने किसी Youtuber या Blogger को अपनी एफिलिएट मार्केटिंग की कमाई दिखाते हुए भी देखा होगा। वैसे वाकई में एफिलिएट मार्केटिंग पैसे कमाने का एक अच्छा स्त्रोत है।

अगर में यूं कहूँ की एफिलिएट मार्केटिंग आए आप सोते हुए भी पैसे कमा सकते हैं तो यह कहना गलत नही होगा, लेकिन ध्यान रहे हर काम में मेहनत करनी जरूरी होती है क्योंकि बिना मेहनत के कुछ नहीं मिलता है।

Affiliate Marketing क्या है? ( What is Affiliate Marketing in Hindi )

एफिलिएट मार्केटिंग का मतलब सहबद्ध विपणन से है । जब आप किसी कंपनी या नेटवर्क से जुड़कर उसके प्रोडक्ट की मार्केटिंग करते हो और उन्हें बेचकर उसमें से प्रॉफिट कमाते हो तो वह Affiliate Marketing है।

विकिपीडिया के अनुसार एफिलिएट मार्केटिंग में चार प्लेयर्स होते हैं जो इसे सफल बनाते हैं।

1. Merchant

यह एफिलिएट मार्केटिंग का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है। एक व्यक्ति से लेकर एक बड़ी कंपनी तक कोई भी मर्चेंट हो सकता है जो कोई भी प्रोडक्ट बनाता हो और बेचता हो।

मर्चेंट अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए एफिलिएट मार्केटिंग का सहारा लेते हैं। जिसमें वे एफिलिएट मार्केटर को उनका प्रोडक्ट बेचने के लिए कुछ कमीशन देते हैं, इससे उनकी बिक्री भी बढ़ जाती  है।

2. Network

नेटवर्क एफिलिएट और मर्चेंट के बीच में एक तरह से मध्यस्थ का काम करते हैं। एक नेटवर्क एफिलिएट मार्केटर को वह सभी प्रोडक्ट उपलब्ध करवाते हैं जो एक मर्चेंट उस नेटवर्क के माध्यम से बेचना चाहता है।

नेटवर्क एफिलिएट मार्केटर को एक प्लेटफार्म उपलब्ध करवाता है, जहां पर एफिलिएट मार्केटर सभी प्रोडक्ट्स को देख सकता है जिन्हें वो प्रमोट करना चाहता है। नेटवर्क एफिलिएट मार्केटिंग को काफी हद तक सरल बना देते हैं।

अमेज़न एफिलिएट प्रोग्राम, वी कमीशन, क्लिक बैंक, और मैक्स बाउंटी एफिलिएट मार्केटिंग के नेटवर्क का काफी अच्छा उदाहरण है, जँहा पर आप रजिस्टर करके वहां पर उपलब्ध प्रोडक्ट की एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हो।

3. Affiliate

एफिलिएट मार्केटिंग में affiliate या publisher वह  व्यक्ति होता है जो कि एक निश्चित कमीशन के लिए किसी प्रोडक्ट का प्रोमोशन करता है, और लोगों को उस प्रोडक्ट को खरीदने के लिए आकर्षित करता है।

Affiliate Marketing करके आप लाखों रुपये कमा सकते हो, बस आपको प्रोडक्ट प्रमोशन और लोगों को समझाना करना आना चाहिए। आप एक ब्लॉग या फिर यूट्यूब चैनल के माध्यम से आसानी से अपने एफिलिएट प्रोडक्ट का प्रोमोशन कर सकते हो।

4. Customer

एक ग्राहक एफिलिएट मार्केटिंग में महत्वपूर्ण स्थान रखता है, क्योंकि बिना ग्राहक के कोई बिक्री नही होगी और न ही कोई लाभ होगा। जब एफिलिएट मार्केटर प्रोडक्ट का प्रोमोशन करते हैं तो ग्राहक उससे प्रभावित होते हैं और उस प्रोडक्ट को खरीदते हैं।

इस तरह से एफिलिएट मार्केटिंग के इस प्रोग्राम में मर्चेंट, एफिलिएट मार्केटर, नेटवर्क, और ग्राहक अपना – अपना काम करते हैं।

Affiliate Marketing से पैसे कैसे कमाए?

Affiliate Marketing Se Paise Kaise Kamaye

Affiliate Marketing से पैसे कमाने के लिए आप एक मर्चेंट या फिर एफिलिएट मार्केटर कुछ भी बन सकते हैं। एफिलिएट मार्केटिंग में नेटवर्क ( जहां पर प्रोडक्ट लिस्ट होते हैं ) भी पैसे कमाता है, पर इस प्रोसेस में बहुत सारा इन्वेस्टमेंट हो जाता है।

आज में आपको यहां पर मर्चेंट ओर एफिलिएट मार्केटर बन कर Affiliate Marketing से पैसे कैसे कमाए यह बताऊंगा।

मर्चेंट बनकर एफिलिएट मार्केटिंग से पैसे कमायें

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग के प्रोग्राम में सबसे ज्यादा इनकम आप एक प्रोडक्ट बनाकर कर सकते हो, क्योंकि जब आप खुद के प्रोडक्ट्स को बेचते हो तो इसमें होने वाला प्रॉफिट एक मार्केटर को मिलने वाले कमीशन से ज्यादा होता है।

जरूरी नहीं की आप कोई  फिज़िकल प्रोडक्ट ही बनाएं आप डिजिटल प्रोडक्ट्स भी बना सकते हैं और उनसे पैसे कमा सकते हैं। यहां पर मैने कुछ स्टेप्स बताये हैं जिन्हें आप फॉलो कर सकते हैं।

1. सबसे पहले आप Market Analysis करें कि ग्राहक किस तरह के प्रोडक्ट खरीदना पसंद करते हैं या किस चीज़ की डिमांड ज्यादा है। इसके बाद एक प्रोडक्ट बनाइये, अगर आप एक डिजिटल प्रोडक्ट बनाते हैं तो उसको बनाना और बेचना आपके लिए बहुत आसान होगा। डिजिटल प्रोडक्ट में आप ई-बुक, या कोई ऑनलाइन कोर्स कुछ भी बना सकते हैं।

2. इसके बाद आपको अपने प्रोडक्ट की कीमत निर्धारित करनी होगी और अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए एक ऑनलाइन प्लेटफार्म बनाना होगा जहां से कस्टमर  आपके इस प्रोडक्ट को खरीदेगा, इसके लिए आप कोई वेबसाइट या Landing Page बना सकते हो।

3. इसके बाद आपको अपने प्रोडक्ट को एफिलिएट मार्केटर तक पहुचाने के लिए एफिलिएट नेटवर्क पर अपने प्रोडक्ट को लिस्ट करवाना होगा। आप क्लिक बैंक, वी कमीशन, या कमीशन जंक्शन या फिर किसी भी एफिलिएट नेटवर्क पर अपने प्रोडक्ट को लिस्ट करा सकते हैं।

4. अब जब आप अपने प्रोडक्ट को लिस्ट करा देते हैं तो यहां से एफिलिएट मार्केटर अपना काम शुरू कर देते हैं और अगर वे बिक्री करने में सफल रहते हैं तो आपको भी लाभ मिलता है।

इस तरह से आप जितने चाहे प्रोडक्ट बना सकते हैं और एफिलिएट नेटवर्क पर लिस्ट करके पैसे कमा सकते हैं, लेकिन आप जो प्रोडक्ट बनाएं वो लोगों को पसंद आना चाहिए।

5. ध्यान रहे जब भी एफिलिएट नेटवर्क के माध्यम से आपके प्रोडक्ट की बिक्री होती है, तो उसमें से कुछ प्रतिशत नेटवर्क और एफिलिएट मार्केटर को भी जाता है। इसमें आपको यह सब चीजें पहले ही निर्धारित कर लेनी होती है ताकि आपको होने वाले लाभ के बारे में जानकारी हो।

Affiliate Marketer बनकर पैसे कमायें

एफिलिएट मार्केटर बनने के लिए आपको सबसे पहले   अपने किसी ब्लॉग, यूट्यूब चैनल या फिर सोशल मीडिया के माध्यम से प्रोडक्ट रिव्यु करने होंगे। आप किसी भी तरह के प्रोडक्ट का रिव्यु कर सकते हैं, कपड़े से लेकर ईबुक तक जिनके बारे में लोग जानना चाहते हों।

एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए आपको सबसे पहले अपने फॉलोवर्स बढ़ाने होंगे ताकि ज्यादा लोगों तक आपकी बात पहुंचे। इसके अलावा आप लोगों के E-Mail कलेक्ट कर सकते हैं और अपनी पहुंच को बढ़ा सकते हैं।

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए कई तरीके हैं, जिनका इस्तेमाल करके आप अच्छी-खासी सेल कर सकते हो। इसके लिए आप ब्लॉग, यूट्यूब, अथवा सोशल मीडिया का सहारा ले सकते हो। यहाँ पर मैने कुछ तरीके बताए हैं, जो आपको एफिलिएट मार्केटिंग की शुरुआत करने में मदद करेंगे।

ब्लॉग बना कर एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें

यह एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए एक अच्छा तरीका है। इसके लिए आपका कोई ब्लॉग या वेबसाइट होनी चाहिए, अगर नहीं है तो मेने ब्लॉग कैसे बनाते हैं इसके लिए एक आर्टिकल लिख रखा है जिसकी पढ़ कर आप आसानी से एक ब्लॉग बना सकते हैं।

जब आपका ब्लॉग रेडी हो जाये तो आपको उस पर अच्छे – अच्छे आर्टिकल लिखने और उन प्रोडक्ट्स का रिव्यु करना है जिनकी आप भविष्य में एफिलिएट मार्केटिंग करने की सोच रहे हैं। अब जब आपके ब्लॉग पर विज़िटर्स आने लग जाएं तो आपको एफिलिएट प्रोग्राम में रजिस्टर करना है।

एफिलिएट प्रोग्राम में जॉइन हो जाने के बाद आप वहां पर उपलब्ध प्रोडक्ट्स का अपनी साइट पर रिव्यू करना है, और अपना एफिलिएट लिंक लगा देना है। इसके अलावा अगर किसी प्रोडक्ट के बैनर उपलब्ध हैं तो आप वेभी अपने ब्लॉग पर लगा सकते हैं।

आप अपने ब्लॉग के माध्यम से लोगों के ई मेल भी कलेक्ट कर सकते हैं और उन्हें मेल करके भी प्रोडक्ट का प्रमोशन कर सकते हैं।

Youtube से एफिलिएट मार्केटिंग करें

अगर आप एक youtuber हैं तो एफिलिएट मार्केटिंग करना आपके लिए बहुत ही आसान हो जाता है, क्योंकि आपके पास ऐसी ऑडियंस होती है जो आपको सुनना पसंद करती है, आपकी बात मानती है।

लेकिन अगर आप youtuber नहीं है तो निराश न हों आप भी अपना खुद के एक यूट्यूब चैनल खोल सकते हैं और जब आपके सब्सक्राइबर बढ़ जाएं तो आप अपने चैनल पर एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं।

यूट्यूब पर आप प्रोडक्ट का रिव्यु कर सकते हैं और डिस्क्रिप्शन में अपना एफिलिएट लिंक दे सकते हैं, ताकि अगर कोई कुछ खरीदे तो उसका कमीशन आपको मिल जाये। इस तरह आप यूट्यूब चैनल बना कर एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हैं।

Social media से एफिलिएट मार्केटिंग करने का तरीका

आपके सोशल मीडिया पर बहुत सारे फॉलोवर्स है तो भी आप एफिलिएट मार्केटिंग के सकते हैं। अगर नहीं हैं तो आप कोई फेसबुक या इंस्टाग्राम पेज बना सकते हैं और वहां पर रोजाना पोस्ट अपडेट कर सकते हैं और जब आपके फॉलोवर्स ज्यादा हो जाएं तो आप उस पर एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते है।

आप ट्विटर, व्हाट्सएप्प, पिंटरेस्ट, जैसे सभी सोशल मीडिया हैंडल का उपयोग एफिलिएट मॉर्केटिंग के लिए कर सकते हैं।

ध्यान रहै कई बार जब आप अपने एफिलिएट लिंक को डायरेक्ट फेसबुक पर पोस्ट करते हैं तो फेसबुक आपके लिंक को ब्लॉक कर सकता है, इसलिए आपको लैंडिंग पेज बनाना होगा और उसका लिंक फेसबुक पर शेयर करना होगा जिससे आपकी पोस्ट ब्लॉक ना हो।

फिर जब भी कोई लैंडिंग पेज पर जायगा तो उसे वहां पर आपका एफिलिएट लिंक मिल जायेगा। यकीन मानिए सोशल मीडिया पर एफिलिएट मॉर्केटिंग करके आप बहुत सेल कर सकते हो, और ऑनलाइन पैसे कमा सकते हो।

Affiliate Marketing Commission Structure क्या होता है?

दोस्तों एफिलिएट मार्केटिंग में मिलने वाला कमीशन प्रोडक्ट सेलर पर निर्भर करता है, की वो किस आधार पर कमीशन देना चाहते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग में ज्यादातर प्रत्येक बिक्री पर कुछ प्रतिशत कमीशन दिया जाता है, जिसे CPS ( Cost Per Sale ) model कहा जाता है। यहां पर मेने कुछ प्रमुख तरीके बताये हैं, जिनके आधार पर एफिलिएट मार्केटर को कमीशन मिलता है।

Cost Per Sale

जब भी आप कोई प्रोडक्ट बेचते हो तो उस पर आपको एक निश्चित प्रतिशत कमीशन मिलता है। यहां पर जब तक प्रोडक्ट की बिक्री नही होगी तब तक आपको कमीशन नही मिलेगा, और जब बिक्री होती है, तो उसका कुछ प्रतिशत आपको कमीशन के रूप में मिल जाता है।

जब भी कोई प्रोडक्ट cost per sale के हिसाब से कमीशन देता है, तो उस पर मिलने वाले कमीशन की रेट पहले ही निर्धारित होती है। आप प्रोडक्ट पर मिलने वाले कमीशन की रेट के हिसाब से प्रोडक्ट को चुन सकते हैं जिसमें ज्यादा कमीशन मिल रहा हो।

अधिकतर एफिलिएट प्लेटफार्म इसी आधार पर अपने एफिलिएट मार्केटर्स को कमीशन देते हैं।

Cost Per Impression

जब आप प्रोडक्ट का प्रमोशन करते हैं, तो कई बार ऐसे प्रोडक्ट भी मिलते हैं जिनके लिए आपको अपने ब्लॉग पर आपको बैनर लगाना होता है, और जितने लोग उस बैनर को देखते हैं उस हिसाब से आपको कमीशन मिलता है। इसमें आपको हर एक व्यू के पैसे मिलते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग में यह तरीका खासकर ऑनलाइन सर्विसेज, या वेबसाइट प्रोमोशन के लिए अपनाया जाता है।

Cost Per Click

कई बार प्रोडक्ट प्रमोशन के लिए आपको क्लिक के हिसाब से कमीशन मिलता है, जिसमें आपको अपने ब्लॉग पर बैनर अथवा एड लगाने होते हैं और जब भी कोई यूजर उन पर क्लिक करता है तो उसके बदले आपको पैसे मिलते हैं।

एफिलिएट मार्केटिंग में अधिकतर पूछे जाने वाले सवाल

एफिलिएट मार्केटिंग क्या है?

एफिलिएट मार्केटिंग एक ऐसा प्रोग्राम है जिसमें आपको दूसरे के प्रोडक्ट्स एवं सर्विसेज का प्रमोशन करके उनकी बिक्री करानी होती है, जिसके लिए आपको कमीशन मिलता है।

एफिलिएट मार्केटिंग से कितने पैसे कमा सकते है?

एफिलिएट मार्केटिंग में इनकम आपकी ऑडियंस पर निर्भर करती है। अगर आपकी ऑडियंस लाखों में है तो संभवतः आप अच्छे पैसे कमा सकते हो।
इसी के साथ ही यह आप पर भी निर्भर करता है कि आप किस तरीके से मार्केटिंग करते हो अगर आप अच्छे मार्केटर हो तो आप आसानी से हज़ार डॉलर महीने के कमा सकते हो।

क्या एफिलिएट प्रोग्राम और एडसेंस का यूज़ एक साथ कर सकता हूँ?

अगर आपका कोई ब्लॉग या यूट्यूब चैनल है जिस पर एडसेंस लगा हुआ है तो उसपर भी आप एफिलिएट मार्केटिंग कर सकते हो इससे एडसेंस पर कोई प्रभाव नही पड़ेगा।

कुछ अच्छे एफिलिएट नेटवर्क कोनसे हैं?

Amazon Affiliate, Shareasale, Commission Junction, CueLinks, ClickBank India, Avantlink, और PeerFly आदि अच्छे एफिलिएट प्रोग्राम हैं।

Conclusion

मेंने हर सम्भव जानकारी इस आर्टिकल में देने की कोशिश की है। उम्मीद है कि अब आपको समझ आ गया होगा कि एफिलिएट मार्केटिंग क्या है, और आप एफिलिएट मार्केटिंग कैसे कर सकते हैं।

दोस्तों यह थी एफिलिएट मार्केटिंग से जुड़ी कुछ जरूरी जानकारी मुझे आशा है कि आपको यह लेख पसंद आया होगा। अगर आपके पास कुछ सुझाव या सवाल हैं तो आप कमेंट करके हमसे पूछ सकते हैं।

Jay Kanwar

Jay Kanwar is an professional blogger. She loves reading and learning new tech. She contributes most of the tech and informative articles on this blog.

Leave a Reply