E Cigarette क्या है ? जिसे बैन कर दिया गया

You are currently viewing E Cigarette क्या है ? जिसे बैन कर दिया गया

टेक्नोलॉजी के इस बदलते युग में सिगरेट भी इलेक्ट्रॉनिक आ गयी है। आजकल हमारे काम में आने वाले ज्यादातर सामान इलेक्ट्रॉनिक हैं, ऐसे में और भी नए इलेक्ट्रॉनिक उत्पादों का अविष्कार होना स्वाभाविक है। आज हम आपको ऐसे ही एक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण E Cigarette Kya Hai के बारे में बताएंगे। अगर आप जानना चाहते हैं कि E Cigarette क्या है, तो आज यह लेख आपके लिए बहुत महत्वपूर्ण है।

ई सिगरेट से सबंधित आपके हर सवाल का जवाब आज आपको इस लेख में मिलने वाला है। इसके फायदे और नुकसान से लेकर इसके बैन होने के कारण सभी के बारे में हमने इस लेख में बताया है। तो चलिए सबसे पहले हम यह जान लेते हैं कि आखिर E Cigarette क्या होती है

E Cigarette क्या है ? ( What is e Cigarette in Hindi )

ई सिगरेट एक ऐसा इलेक्ट्रॉनिक उपकरण है, जिसके इस्तेमाल से आप सिगरेट पीने जैसा अनुभव कर सकते हो। दरअसल इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट बैटरी की मदद से काम करती है। इस डिवाइस में निकोटिन और अन्य तरल पदार्थ भरे होते हैं जो बैटरी की ऊर्जा से भाप बनकर इसमें से निकलते हैं।

ई सिगरेट को सामान्य सिगरेट के जैसा ही बनाया जाता है, कई बार इसमें थोड़े बड़े आकार के टैंक का उपयोग भी किया जाता है। इसके अलावा कई इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट में LED Bulb भी लगा होता है, जो कि सिगरेट पीने के दौरान जलता रहता है। ई सिगरेट को Ecigs, Vape Pens, Vape Mod, Vape Tank, और Vaping Device के नाम से भी जाना जाता है।

इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट का आविष्कार

नए ज़माने की इस इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट का आविष्कार चीन के एक फार्मासिस्ट हॉन लिक ने किया था।

हॉन लिक का जन्म सिंतबर 1951 में हुआ था। उन्होंने 2003 में इस डिवाइस को पेटेंट करवा लिया था। इसके बाद 2004 में यह ई सिगरेट डिवाइस बाजार में पेश किया गया था। 

आखिर लोग ई सिगरेट क्यों पीते हैं?

ई सिगरेट पीने का बड़ा कारण इसके प्रचार करने का तरीका है। इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के प्रचार में कहा जाता है कि यह सिगरेट पीने की लत को कम करता है। यही वजह है जिसके कारण कई लोग जो कि सिगरेट की लत से छुटकारा पाना चाहते हैं, वे ई सिगरेट का सेवन करने लगते हैं।

जितना एक सिगरेट पीने वाला एक साल में सामान्य सिगरेट पर खर्च करता है, उससे कम खर्च एक ई सिगरेट पर आता है।

ई सिगरेट में अलग-अलग प्रकार के फ्लेवर्स भी आते हैं जो लोगों को इसका इस्तेमाल करने के लिए आकर्षित करते हैं। इसमें सामान्य सिगरेट के समान दुर्गंध नही आती है। जिसके कारण लोग इसे किसी रेस्त्रां या पब्लिक प्लेस पर भी पी सकते हैं, इस कारण से भी लोग इसका इस्तेमाल करते हैं।

ई सिगरेट के नुकसान

ईलेक्ट्रॉनिक सिगरेट को बनाने के लिए निकोटिन और अन्य रसायन का भी इस्तेमाल किया जाता है।

वैज्ञानिक शोध के मुताबिक धीरे-धीरे इसके सेवन करने वाले को इसकी लत लग जाती है, और जब वे इसे छोड़ने की कोशिश करते हैं तो डिप्रेशन की समस्या भी हो सकती है।

ई सिगरेट दिल की धमनियों को भी कमजोर करती है।यह हृदय रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है, इसलिए हृदय रोगियों को ई सिगरेट का सेवन नहीं करना चाहिए।

अगर गर्भवती महिलाएं इसका सेवन करती हैं तो इससे उनके शिशु पर असर पड़ सकता है। इसके अलावा अगर इसका सेवन छोटे बच्चों के आसपास करना भी हानिकारक हो सकता है, क्योंकि इसमें से निकलने वाली भाप बच्चों की दिमागी विकास पर बुरा असर करती है। ई सिगरेट का इस्तेमाल करने वालों में कैन्सर होने की आशंका भी बढ़ जाती है।

E Cigarette बैन होने के कारण

अब आप यह तो जान गए होंगे कि ई सिगरेट क्या है और इसके नुकसान क्या हैं। ई सिगरेट से होने वाले नुकसानों के कारण ही भारत के वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 18 सितंबर 2019 को केंद्रीय कैबिनट की सहमति से ई सिगरेट पर बैन का फैसला सुनाया था। इलेक्ट्रॉनिक सिगरेट के इस बैन के बाद भारत में इसके उत्पादन, आयात एवं निर्यात, बिक्री एवं प्रचार करना पूरी तरह से प्रतिबंधित है।

अगर कोई नियमों का उल्लंघन करता है तो एक साल तक की जेल और एक लाख रुपये का जुर्माना का हो सकता है। इसके अलावा अगर कोई दूसरी बार नियम का उल्लंघन करता है तो उसके लिए पाँच लाख रुपये का जुर्माना और तीन साल तक जेल का प्रस्ताव किया गया है।

यह भी पढ़ें:

Conclusion

आपके सवाल ई सिगरेट क्या है इसका जवाब आपको मिल गया होगा। वैसे भारत में अब ई सिगरेट बैन है और देखा जाए तो यह सही भी है, क्योंकि वे लोग जिन्होंने कभी सिगरेट नही पी वे भी नये जमाने की इस ई सिगरेट की और आकर्षित हो रहे थे। माना कि ई सिगरेट सामान्य सिगरेट से कम नुकसान करती है, पर नुकसान तो करती है। वैसे आपकी इस बारे में क्या राय है, हमें कमेंट करके अवश्य बतायें।

Jay Kanwar

Jay Kanwar is an professional blogger. She loves reading and learning new tech. She contributes most of the tech and informative articles on this blog.

Leave a Reply