Voter ID Card क्या है, कैसे बनवाएं – पूरी जानकारी।

  • Post author:
  • Post last modified:सितम्बर 8, 2023
  • Post category:Knowledge
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:12 mins read
Voter ID Card Kya Hai

Voter ID Card के बारे में तो आपने सुना ही होगा। लेकिन क्या आप जानते है कि Voter ID Card Kya Hai अगर नहीं तो आपको इसके बारे में जरूर जानकारी होनी चाहिए। क्योंकि वोटर आईडी कार्ड किसी भी वोटर के लिए एक बहुत जरूरी दस्तावेज होता है। इसलिए आपको इस पोस्ट को जरूर पढ़ना चाहिए।

भारत एक लोकतांत्रिक देश है, जिसमें हर 5 साल में चुनाव होते है और एक जिम्मेदार नागरिक होने के नाते हमारा यह अधिकार भी है और फर्ज भी कि हम अपना वोट देकर अपना कर्तव्य पूरा करे। जैसा कि आप जानते हैं कि वोट देने के लिए किसी भी वोटर को वोटर आईडी कार्ड की आवश्यकता होती है।

वोट देने के अलावा voter card अन्य कामों के लिए उपयोगी होता है। यह सामान्य पहचान-पत्र, पता और आयु प्रमाण के रूप में भी कार्य करता ही है, इसके अलावा वोटर कार्ड सिम कार्ड खरीदने, पासपोर्ट के लिए आवेदन करने और कई बार कुछ जगह आवेदन करने के लिए भी किया जाता है ।

वोटर आईडी कार्ड भी आधार कार्ड और पैन कार्ड के जितना ही महत्वपूर्ण होता है। 18 वर्ष की आयु पूरा करने पर आप वोटर कार्ड के लिए आवेदन कर सकते हैं। इस आर्टिकल में हमने आपको वोटर आईडी कार्ड से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे Voter ID Card Kya Hai, यह क्यों जरूरी है, इसके लिए कैसे आवेदन कर सकते है उपलब्ध करा दी है। आइये जानते हैं, Voter ID Card in Hindi के बारे में।

वोटर आईडी कार्ड का हिन्दी अर्थ (Voter ID Card Meaning in Hindi)

Voter ID Card को हिन्दी में “मतदाता पहचान पत्र” कहा जाता है।

वोटर आईडी कार्ड क्या है (What is Voter ID Card in Hindi)

वोटर आईडी कार्ड को Election Photo Identification Card और Electors Photo Identification Card (EPIC) के नाम से भी जाना जाता है। भारत में वोटर आईडी कार्ड एक अहम दस्तावेज है, यह भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी किया जाता है। वोटर आईडी कार्ड के बिना कोई भी व्यक्ति वोट नहीं डाल सकता। केवल वयस्क अर्थात 18 साल से अधिक उम्र वाले व्यक्ति का ही बनता है। हर Voter ID Card में एक Unique Number होता है। यही नम्बर एक वोटर आईडी कार्ड को दूसरे वोटर आईडी कार्ड से अलग बनाता है और इसी कारण हर व्यक्ति की अलग पहचान होती है।

मतदाता पहचान पत्र भारतीय चुनाव आयोग द्वारा जारी किया जाता है। वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए आप ऑफलाइन व ऑनलाइन दोनों तरीके से आवेदन कर सकते है। वोटर आईडी कार्ड के लिए आप राष्ट्रीय मतदाता सेवा पोर्टल (national voters services portal) पर ऑनलाइन आवेदन कर सकते है। ईपीआईसी (EPIC) को एक पहचान पत्र के रूप में भी काम लिया जा सकता है। 

New Voter ID Card बिल्कुल मुफ्त बनाया जाता है। यह विभिन्न महत्वपूर्ण डाक्यूमेंट्स बनाने और साथ ही पहचान पत्र के रूप में भी काम आता है। इस कार्ड में आगे की तरफ मतदाता का नाम, मतदाता की तस्वीर के साथ उनके पिता या माता का नाम और मतदाता पहचान पत्र नम्बर होता है जबकि कार्ड के पीछे की तरफ निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी के हस्ताक्षर की एक छवि के साथ मतदाता के घर का पता छपा होता है।

वोटर आईडी कार्ड बनवाना क्यों जरूरी है?

यदि आप भारत में रहते हैं और भारत के नागरिक है, तो आपको वोटर आईडी कार्ड बनवाना आवश्यक है, क्योंकि भारत में वोट देने के लिए मतदाता का नाम वोटर लिस्ट में होना और वोटर के पास वोटर आईडी कार्ड का होना आवश्यक है। इस मतदाता लिस्ट में मतदाता के विधानसभा क्षेत्र और उनके निर्वाचन क्षेत्र का भी उल्लेख होता है। इसकी सहायता से चुनाव अधिकारी और मतदाता को मतदाता सूची का पता लगाने में मदद करती है।

जानें – Matdan kaise kare | Vote Kaise dete hain

भारत में वोटर आईडी कार्ड बनवाने के लिए पात्रता क्या है?

भारत सरकार द्वारा कुछ पात्रताएँ निर्धारित की गई है। यदि कोई व्यक्ति भारत में वोट देना का अधिकार पाना चाहता है और वोटर आईडी कार्ड प्राप्त करना चाहता है तो इसके लिए उसे इन्हेँ पूरा करना होगा। यह पात्रताएँ निम्नलिखित है।

  • आवेदक भारतीय नागरिक होना चाहिए।
  • आवेदक की उम्र कम से कम 18 वर्ष होनी चाहिए।
  • आवेदक के पास परमानेंट रेजिडेंशियल प्रूफ होना चाहिए।

वोटर आईडी कार्ड के लिए आवेदन करने हेतु जरूरी डॉक्युमेंट्स

वोटर आईडी कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए नीचे बताए गए डॉक्युमेंट्स की आवश्यकता होगी।

VOTER id card ke liye document

  • एक पॉसपोर्ट साइज फोटो।
  • एक पहचान प्रमाण-पत्र (बर्थ सर्टिफिकेट, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, पैन कार्ड अथवा हाई स्कूल की मार्कशीट आदि शामिल है)
  • पते का प्रमाण-पत्र (राशन कार्ड,यूटिलिटी फ़ोन अथवा बिजली का बिल, पासपोर्ट या फिर ड्राइविंग लाइसेंस आदि में से कोई एक)

चुनाव आयोग कीऑफिशियल साइट से आप पहले से बने हुए वोटर आईडी कार्ड भी डाउनलोड कर सकते है।

वोटर आईडी कार्ड के लिए आवेदन कैसे करें (How to apply for Voter ID Card in Hindi)

वोटर आईडी कार्ड के ऑनलाइन आवेदन के लिए किया जाने वाला नामांकन एनरोलमेंट प्रोसेस बेहद आसान होता है। वोटर आईडी कार्ड के रजिस्ट्रेशन के लिए आपको बीएस गवर्नमेंट ऑफ इंडिया की ऑफिशियल वेबसाइट ‘इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया’ पर जाना है और बताई गई प्रोसेस को पूरा करना है। यह वेबसाइट भारत की चुनाव प्रणाली और प्रक्रिया के बारे में सभी जानकारी प्रदान करती है। 

इस वेबसाइट पर देश भर के वोटर्स की लिस्ट और सभी चुनाव कार्यक्रम की जानकारी उपलब्ध होती है। साथ ही इस वेबसाइट पर नए वोटर के रजिस्ट्रेशन के लिए जरूरी एप्लीकेशन फॉर्म और वोट देने के लिए गाइडलाइंस की एक लिस्ट भी उपलब्ध है। नाम बदलने के प्रोसेस के लिए भारत सरकार द्वारा भारत में रहने वाले स्वदेशी वोटर्स के साथ-साथ, विदेशी और सरकारी सर्विस के आर्म्ड फोर्सेस के मेंबर्स के सम्बन्ध में गाइडलाईन भी जारी है। वोटर आईडी कार्ड के लिए आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से अप्लाई कर सकते है।

वोटर आईडी कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें (How to apply for Voter ID Card Online in Hindi)

वोटर आईडी कार्ड के लिए आपके पास घर बैठे आवेदन कर सकते है। हर राज्य के लिए ऑनलाइन अप्लाई करने के लिए अलग-अलग साइटें उपलब्ध है। इसके लिए आपके पास कम्प्यूटर होना भी जरूरी नहीं, आप अपने मोबाइल से भी इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं। नए वोटर आईडी कार्ड के आवेदन के लिए आपको ECI Website के होमपेज पर नेशनल वोटर्स सर्विस पोर्टल पर जाकर 6 नम्बर फॉर्म द्वारा आवेदन करना होता है। वोटर आईडी कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

New Voter ID Card Apply Online

  • सबसे पहले इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया की ऑफिशियल वेबसाइट ‘https://www.nvsp.in‘ ओपन करे।
  • अब नेशनल वोटर्स सर्विस पोर्टल पर जाए।
  • अब यहाँ दिख रहे ”Apply Online for Registration of New Voter” के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • अब यहाँ पूछी गई जानकारी भरें और जरूरी डॉक्यूमेंट्स को भी अपलोड करे।
  • अन्त में ”Submit” के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • सबमिट करने के बाद इस फॉर्म में आपके द्वारा दी गई ईमेल आईडी पर एक ईमेल प्राप्त होगा और इसमें आपको एक पर्सनल वोटर आईडी पेज का लिंक दिया हुआ होगा। इस लिंक के द्वारा आप अपनी voter id application को ट्रेक कर सकते हैं।

आवेदन करने के बाद एक महीने बाद आपको आपका वोटर कार्ड रजिस्टर्ड एड्रेस पर पहुंचा दिया जाता है। इस तरह आप ऑनलाइन आवेदन कर पाना वोटर कार्ड प्राप्त कर सकते हैं। आइये अब जानते है कि वोटर कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे किया जाता है।

वोटर आईडी कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन कैसे करें (How to apply for Voter ID Card Offline in Hindi)

अगर आप वोटर आईडी कार्ड के लिए ऑफलाइन आवेदन करन चाहते है, तो इसके लिए आपको यहाँ बताए गए स्टेप्स फॉलो कर सकते है।

New Voter ID Card Apply Offline

  • इसके लिए आवेदक को सबसे पहले राज्य चुनाव कार्यालय जाकर फॉर्म 6 के लिए अनुरोध करना होगा। आप चाहे हो यह फॉर्म किसी ई-मित्र से भी प्राप्त कर सकते है।
  • फॉर्म भरने के बाद मांगे गए सभी दस्तावेज के साथ फॉर्म को कार्यालय में जमा करना होगा।

सभी दस्तावेज जमा करने के बाद अधिकारी आपके द्वारा दिए गए सभी विवरणों का सत्यापन करने के बाद आवेदक को वोटर आईडी कार्ड जारी कर दिया जाता है।

वोटर आईडी कार्ड लिस्ट में नाम कैसे चेक करें (Voter ID Card Status Kaise Check Kare)

अगर आप पता करना चाहते है कि आपका नाम वोटर आईडी कार्ड लिस्ट में है या नहीं तो नीचे बताए गए स्टेप्स के द्वारा आप अपना नाम वोटर आईडी कार्ड लिस्ट में चेक कर सकते हैं। आप तीन तरह से इसका पता लगा सकते है।

1. ऑफिशियल वेबसाइट द्वारा।

आप चाहे तो इलेक्शन कमीशन की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाकर चेक कर सकते है कि आपका नाम वोटर लिस्ट में ऐड है या नहीं। यदि आपका नाम वोटर लिस्ट में होगा, तो आपको आपकी वोटर आईडी से जुड़ी सारी डिटेल यहाँ दिखा दी जाएगी। इसके लिए नीचे बताई गई प्रक्रिया को फॉलो करे।

  • सबसे पहले इलेक्शन कमीशन की ऑफिशियल वेबसाइट https://www.nvsp.in पर जाए।
  • फिर होम पेज पर रहे “Search in Electoral Roll” के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • अब Search by Name या Search by EPIC Number में से किसी एक ऑप्शन को सेलेक्ट करें।
  • इसके बाद पूछी गयी डिटेल्स भरे।
  • अन्त में Search के बटन पर क्लिक करे।

2. हेल्पलाइन नम्बर द्वारा।

आप चाहें तो राष्ट्रीय मतदाता पहचान पत्र की हेल्पलाइन नंबर 1950 या 7738299899 पर एसएमएस या कॉल करके भी यह पता लगा सकते है। इसके लिए बस आपको अपना वोटर आईडी टाइप करके 1950 या 7738299899 पर एक SMS Send करना होता है।

3. नजदीक के वोटर सेन्टर पर जाकर।

यदि आप ऊपर दिए गए विकल्पों के द्वारा लिस्ट में अपने वोटर आईडी कार्ड के बारे में पता नहीं लगाना चाहते हैं, तो आप अपने नजदीक के वोटर सेन्टर पर जाकर भी वोटर कार्ड का स्टेटस चेक कर सकते हैं।

वोटर कार्ड के फायदे (Benefits of Voter ID Card)

अन्य कार्य जिनमें आपको किसी प्रमाण पत्र की जरूरत पड़ती है, वहां भी आप इसे यूज कर सकते है।

  • वोटर आईडी कार्ड से आप मतदान कर सकते हैं।
  • वोटर आईडी कार्ड पहचान प्रमाण पत्र के रूप में काम आता है।
  • भारत सरकार द्वारा लागू की गई स्कीम्स का फायदा उठाने के लिए पहचान पत्र को इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • यह पता और आयु प्रमाण के रूप में भी कार्य करता है। इसके साथ ही अन्य उद्देश्यों जैसे पासपोर्ट के लिए आवेदन हेतु या मोबाइल फोन सिम कार्ड खरीदने आदि कई तरह के कार्यों के लिए एक सामान्य पहचान पत्र के रूप में उपयोग में आता है।
  • यह भूमि या वायु द्वारा नेपाल और भूटान की यात्रा करने के लिए एक यात्रा दस्तावेज के रूप में भी कार्य करता है।
  • इसके अलावा आप अपनी विधानसभा और लोकसभा क्षेत्र की सभी जानकारी इसके ऑफिशियल पोर्टल से पता कर सकते है।

Voter ID Card अन्तिम राय

उम्मीद है, दोस्तों अब आपको समझ आ गया होगा कि Voter ID Card kya hota hai. जैसा कि हमने आपको बताया वोटर आईडी कार्ड किसी भी वोटर के लिए एक महत्वपूर्ण दस्तावेज होता है। इस आर्टिकल को पढ़कर आपको यह भी पता लग गया होगा कि Voter ID Card Kaise banaye mobile se और इसके लिए कौन-कौन से दस्तावेजों की आवश्यकता होती है। तो अगर आपकी आयु 18 वर्ष से ऊपर हो गई है तो आप इसके लिए Voter ID Card Online Registration कर सकते हैं।

आपको हमारी यह पोस्ट “Voter ID Card Kya Hai” कैसी लगी, कमेन्ट करके जरूर बताए और अगर आपका voter card से जुड़ा कोई भी सवाल हो तो इसे भी आप कमेन्ट करके बता सकते हैं। आप चाहें तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ भी शेयर कर सकते हैं, ताकि उन्हें भी इसके बारे में जानकारी हो। साथ ही ऐसी इन्फॉर्मेशनल पोस्ट पढ़ने के लिए हमारे ब्लॉग Fly Hindi को फॉलो करें।

FAQ: Voter ID Card से जुड़े सवाल-जवाब।

  1. EPIC क्या है?

    Voter Id Card का ही दूसरा नाम “EPIC” है।

  2. वोटर आईडी कार्ड के अलावा कौन-से दस्तावेज है, जिनके द्वारा वोट डाल सकते हैं?

    अगर कभी ऐसा हो जाता है कि आपके पास वोटर आईडी कार्ड नहीं है और आप वोट डालना चाहते हैं, तो चिंता न करें। आप बिना वोटर आईडी कार्ड के भी वोटिंग कर सकते हैं। 11 दस्तावेज ऐसे हैं, जिनका इस्तेमाल आप वोटर आईडी कार्ड के स्थान पर कर सकते हैं। इसमें पैन कार्ड, आधार कार्ड, पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, केंद्रीय राज्य सरकार की नौकरी का आईडी कार्ड, बैंक या पोस्ट ऑफिस की पासबुक, मनरेगा योजना कार्ड, पेंशन डॉक्यूमेंट, हेल्थ इंश्योरेंस कार्ड, फोटो लगी हुई मतदाता स्लिप और NPR के तहत RBI द्वारा जारी किया गया स्मार्ट कार्ड शामिल है।

  3. एड्रेस बदलने पर क्या नया वोटर आईडी कार्ड बनवाने की आवश्यकता पड़ती है?

    यदि आप अपना एड्रेस बदलकर उकिसी अन्य राज्य या शहर में जाते हैं, तब ही आपको नया वोटर आईडी कार्ड बनवाने की जरूरत पड़ती है। नया वोटर कार्ड बनवाकर आप अपना नाम उस क्षेत्र की वोटिंग लिस्ट में जुड़वा सकते हैं। नया वोटर आईडी कार्ड बनवाने की प्रक्रिया बिल्कुल वही रहेगी जो हमने आपको इस पोस्ट में बताई है। इसे बनने में भी करीब 1 महीने का ही समय लगता है और यह आपके द्वारा दिए गए पते पर आ जाता है।

Share It

Jay Kanwar

Jay Kanwar is an professional blogger. She loves reading and learning new tech. She contributes most of the tech and informative articles on this blog.