RTGS Kya Hai और RTGS के द्वारा फण्ड ट्रान्सफर कैसे करें?

  • Post author:
  • Post category:Knowledge
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:15 mins read
You are currently viewing RTGS Kya Hai और RTGS के द्वारा फण्ड ट्रान्सफर कैसे करें?

क्या आपने कभी RTGS का नाम सुना है? क्या आप जानते है, RTGS Kya Hai. अगर नहीं तो आपके लिए यह जानना आवश्यक है। क्योंकि यह पैसा ट्रांसफर करने का एक ऑनलाइन जरिया है, जो आपकी लाइफ को ओर भी आसान बनाता है। आज के इस आर्टिकल में हम बैंकिंग सेक्टर की पेमेंट सिस्टम प्रणाली आरटीजीएस के बारे में आवश्यक जानकारी देंगे। लेकिन इससे पहले कि हम आपको आरटीजीएस के बारे में ओर जानकारी दे सबसे पहले आपको RTGS का पूरा नाम जानना चाहिए। तो आइये सबसे पहले जानते है, RTGS की फुल फॉर्म क्या होती है?

RTGS की फुल फॉर्म क्या होती है (What is Full Form of RTGS)

RTGS की full form “Real Time Gross Settlement” होती है।

RTGS का पूरा नाम क्या होता है (RTGS Full Form in Hindi)

RTGS को हिन्दी में “तत्काल लेन-देन क्रिया” कहा जाता है।

RTGS क्या है (What is RTGS in Hindi)

RTGS एक प्रकार का वास्तविक समय सकल निपटान करने हेतु एक ऑनलाइन बैंकिंग प्रक्रिया है, जिसके द्वारा पैसों को एक बैंक से दूसरी बैंक में तुरन्त ट्रान्सफर किया जाता है। RTGS का प्रयोग अधिकतर बड़े कारोबारियों द्वारा उनके व्यवसाय के लिए किया जाता है। इसके द्वारा आप कम से कम 2,00,000 रूपए तक ट्रान्सफर कर सकते है, जबकि अधिकतम के लिए कोई लिमिट नहीं है। जब तक बैंक ब्रांच आपकी लिमिट तय न कर दे, तब तक आप जितनी चाहे उतनी राशि ट्रान्सफर कर सकते है। यह एक सुरक्षित प्रक्रिया है, जो बहुत तेजी से कार्य करती है।

आसान भाषा में कहें तो RTGS एक बैंकिंग प्रक्रिया है, जो बैंकधारक को तत्काल में लेन-देन करने की सुविधा प्रदान करता है। यह एक Reliable प्रक्रिया है। अन्य फण्ड ट्रान्सफर करने के मुकाबले RTGS इस इंटरबैंक ट्रान्सफर प्रक्रिया में अलग मेथड का यूज किया जाता है, जो इसके settlement risks को eliminate कर देता है। भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने 14 दिसंबर 2020 में घोषणा की थी, कि अब देश में RTGS का सिस्‍टम लागू होगा, जो कि पूरे साल 24×7 घंटे डिजिटल लेनदेन करने का काम करेगा। RBI के पास इससे जुड़े सभी दस्तावेज और रिकार्ड्स दर्ज होते है।

RTGS कैसे भरें?

RTGS Online और Offline दोनों Method पर काम करता है। यहाँ हमने ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों के बारे में बताया है। आइये पहले जानते है, RTGS के लिए ऑनलाइन प्रोसेस किस प्रकार की जाती है।

RTGS भरने के लिए ऑनलाइन प्रक्रिया

इसके लिए इंटरनेट बैंकिंग का उपयोग किया जाता है। RTGS के अन्तर्गत आप जिस व्यक्ति को पैसे ट्रान्सफर करना चाहते है, उसे अपने अकाउंट में एक payee अथवा beneficiary customer के रूप में Add करना होता है और आपको बैंक द्वारा माँगी गई उसकी सभी जानकारी प्रदान करनी होती है। फिर बैंक इन सभी डिटेल्स को चेक करता है। इस प्रक्रिया मे 12-24 घंटें का समय लगता है।

आरटीजीएस की यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है और अगर सभी डिटेल्स सही रहती है तो बैंक द्वारा उस beneficiary customer को एक्टिवेट कर दिया जाता है। एक बार बैंक लाभार्थी ग्राहक को एक्टिवेट कर दे तो फिर आप उस उस व्यक्ति को पैसे ट्रान्सफर कर सकते हैं। किसी लाभार्थी ग्राहक को एक्टिवेट कराने के लिए आपके पास उस कस्टमर की कुछ जानकारी होनी चाहिए, जो कि निम्नलिखित है।

  • Bank और Bank Branch का नाम
  • Name और Account Number
  • Bank का IFSC Code (Indian Financial System Code)

RTGS भरने के लिए ऑफलाइन प्रक्रिया

यदि आप RTGS के लिए Online apply नहीं करना चाहते है तो आप इसे Offline भी apply कर सकते है।

  • सबसे पहले सम्बन्धित बैंक की ब्रांच में जाएं।
  • अब एक Instruction Slip को भरें। यह बिल्कुल वैसे ही करना है जैसे NEFT या Cheque Deposit करते समय करते है।
  • स्लिप को भर कर इसे Deposit कर दें। आपके स्लिप डिपॉजिट करने के बाद Sending Bank उस स्लिप में बताई गई जानकारी को अपने Central Processing System में फीड करके RBI को Send कर देता है।
  • फिर आरबीआई Sending Bank के Account से पैसों को डेबिट करके उस बैंक अकाउंट में क्रेडिट कर देता है, जिस बैंक को RTGS किया गया है।
  • इस प्रक्रिया को करने के बाद आरबीआई द्वारा एक Unique Transaction Number (UTN) Generate किया जाता है, जिसे वह sender bank को भेज देता है। जब सेन्डर बैंक को यह UTN Receive होता है तो यह मान लिया जाता है कि उनके द्वारा भेजा गया अमाउंट ट्रान्सफर हो गया है।
  • UTN Receive करने के बाद sender bank द्वारा इस बात की जानकारी receiver bank को दी जाती है।
  • जानकारी प्राप्त होने के बाद receiver bank उस निश्चित राशि को account holder के अकाउंट में क्रेडिट कर देता है, जिस अकाउंट में वह अमाउंट ट्रान्सफर किया गया था।
  • इस प्रकार यह सारी Transaction Process पूरी होती है। इस प्रक्रिया को पूरा होने में लगभग 30 मिंनट का समय लगता है। 

RTGS से फंड ट्रांसफर कैसे करें?

RTGS द्वारा ऑनलाइन तरीके से राशि ट्रांसफर करने के लिए आपके बैंक अकाउंट में इंटरनेट बैंकिंग की सुविधा एक्टिव होना आवश्यक है। आरटीजीएस एक्टिवेशन के लिए यूजर सम्बन्धित बैंक शाखा से संपर्क कर सकते है। नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो कर आप राशि ट्रांसफर कर सकते है।

  • सबसे पहले सम्बन्धित बैंक के वेब पोर्टल पर जाएं और अपनी आईडी और पासवर्ड के साथ लॉग इन करें।
  • अपनी प्रोफाइल पर जाएं और “beneficiary” का विकल्प पर क्लिक करें।
  • यहाँ दिख रहे  इंटर-बैंक भुगतान विकल्पों में से “RTGS” के विकल्प को चुनें।
  • अब लाभार्थी को जोड़ने वाले विकल्प पर क्लिक करे और जिस व्यक्ति को आप पैसे भेजना चाहते है, उसका नाम, अकाउंट नंबर, पता और IFSC कोड जैसी आवश्यक जानकारी भरें।
  • accept Terms of Service और फिर ‘confirm’ के बटन पर क्लिक करें।
  • अब बैंक द्वारा आपके रजिस्टर्ड नम्बर पर एक OTP भेजा जाएगा। इस पासवर्ड को डालें।
  • इस तरह लगभग 30 मिनट में उस व्यक्ति का अकाउंट में RTGS एक्टिव जाएगा। फिर आप उसे पैसे ट्रांसफर कर सकते है।
  • RTGS के माध्यम से इंटर बैंक भुगतानकर्ता को पैसे भेजने के लिए नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।
  • ‘Payments/Transfers’  के टैब पर क्लिक करें। 
  •  फिर ‘Inter Bank Transfer’ के विकल्प को चुनें।
  • अब यहाँ आपको RTGS और NEFT दोनों तरह से ट्रांजेक्शन के विकल्प दिखेंगे, इनमें से RTGS के विकल्प को चुनें।
  • यहाँ आपको उन सभी व्यक्तियों की लिस्ट दिखेगी जो इसमें जुड़े है। आप जिस व्यक्ति को पैसे भेजना चाहते हैं, उसे चुनें।
  • अब जितनी राशि आप भेजना चाहते हैं, वह दर्ज करें।
  • अंत में ‘Accept Terms of Service (Terms & Conditions)’ पर क्लिक करें।

ऊपर बताई गई प्रक्रिया के अनुसार आप RTGS द्वारा आसानी से फंड ट्रांसफर कर सकते है। यदि इस प्रक्रिया के दौरान कोई समस्या आती है, तो ग्राहक अपने बैंक से संपर्क कर उसका समाधान प्राप्त कर सकता है।

RTGS Transactions के Fees और Charges क्या है?

RTGS ट्रांजेक्शन में जिस अकाउंट से पैसे भेजे जाते है उस पर बैंक द्वारा कुछ charges लगाये जाते है, लेकिन जिस bank को पैसे भेजे जाते है उस पर कोई चार्ज नहीं लगाया जाता है। Sender bank account पर लगाया जाने वाला transfer charge कुछ इस प्रकार है।

  • 2 लाख से 5 लाख रुपये तक के हर ट्रांजेक्शन पर 30 रुपये और जीएसटी (वस्‍तु एवं सेवा कर)।
  • 5 लाख रुपये से ऊपर के हर ट्रांजेक्शन पर 55 रुपये और जीएसटी (वस्‍तु एवं सेवा कर)।

RTGS Transactions करने के लिए बैंक का निर्धारित समय क्या है?

RTGS Transactions करने के लिए बैंकों का समय भी निर्धारित है, जो कि निम्नलिखित है।

  • बुधवार – 9.00 a.m. से 4.30 p.m तक
  • शनिवार – 9.00 a.m. से 2.00 p.m तक

RTGS क्यो उपयोगी है?

RTGS की आवश्यकता High Value Transaction के लिए पड़ती है। RTGS का उपयोग उन व्यक्तियों व संस्थाओं के द्वारा किया जाता है, जो दैनिक रूप से बड़े ट्रांजेक्शन करते है। इसलिए यह मुख्य रूप से व्यापारियों और व्यवसायिक संस्थाओं द्वारा इस्तेमाल किया जाता है। इस प्रक्रिया में कोई लिमिट नहीं होती है, आप 2 लाख से बड़ी राशि का ट्रांजेक्शन कर सकते है। यही नहीं आप दिन भर में कई बार ट्रांजेक्शन कर सकते है। लेकिन इसे केवल बड़े व्यापारियों और व्यवसायिक संस्थाओं द्वारा ही नहीं बल्कि आम व्यक्तियों और छोटे व्यापारियों द्वारा भी काम में लिया जाता है।

RTGS Transaction के फीचर्स क्या-क्या है?

RTGS Transaction में कुछ ऐसे फीचर्स पाए जाते है, जो ग्राहक को एक बेहतर एक्सपीरियन्स प्रदान करते है। नीचे हमने ऐसे ही कुछ फीचर्स के बारे में बताया है।

  • RTGS Transaction प्रक्रिया का प्रयोग केवल high value transactions के लिए किया जाता है।
  • RTGS Transaction प्रक्रिया का इस्तेमाल Realtime online fund transfer करने के लिए किया जाता है।
  • इस प्रक्रिया में राशि ट्रान्सफर करने के लिए one-on-one method का use किया जाता है।
  • इस प्रक्रिया में ट्रांजेक्शन्स को individual और gross basis पर execute किया जाता है।

RTGS से होने वाले फायदे क्या-क्या है?

RTGS Transaction से एक बैंक के ग्राहक को होने वाले फायदे निम्नलिखित है।

  • यह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा संचालित की जाने वाली एक सुरक्षित प्रक्रिया है।
  • RTGS के द्वारा आप बस कुछ ही मिनटों में बड़ी से बड़ी राशि ट्रान्सफर की जा सकती है, यह प्रक्रिया तेजी से संचालित की जाती है।
  • RTGS प्रक्रिया के माध्यम से 2 लाख व उससे अधिक की धनराशि ट्रान्सफर कर सकते है।
  • इसमें कोई कागजी प्रक्रिया नहीं होती है।

FAQ: RTGS से जुड़े सवाल-जवाब

RTGS प्रक्रिया में राशि ट्रान्सफर होने में कितना समय लगता है?

RTGS प्रक्रिया में राशि ट्रान्सफर होने में लगभग 30 मिनट का समय लगता है।

क्या भारत के सभी बैंकों में RTGS facility उपलब्ध है?

जी नहीं, भारत के केवल कुछ बैंक ही RTGS की services प्रदान करते है।

क्या RTGS का इस्तेमाल विदेशी बैंक अथवा विदेशी बैंक अकाउंट में पैसे ट्रान्सफर करने के लिए किया जाता हैं?

नहीं, ये RTGS service का उपयोग केवल कुछ भारतीय बैंकों एवं बैंक अकाउंट में ही पैसे ट्रान्सफर करने के लिए किया जाता है।

क्या RTGS प्रक्रिया द्वारा आप एक ही बैंक के अंतर्गत पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं?

हां, RTGS प्रक्रिया द्वारा आप एक ही बैंक के दो अकाउंट में या फिर दो अलग-अलग बैंक के बीच पैसे ट्रांसफर कर सकते है।

क्या एक बार RTGS पेमेंट करने के बाद उसे कैंसिल किया जा सकता है?

नहीं, अगर आप एक बार RTGS पेमेंट कर दे तो इसे कैंसिल नहीं किया जा सकता।

अगर RTGS के जरिए गलत अकाउंट में पैसे ट्रांसफर हो जाएं, तो क्या उसे वापस प्राप्त किया जा सकता?

नहीं, अगर RTGS के जरिए आप किसी दूसरे अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर देते है, तो आप इन्हें दोबारा प्राप्त नहीं कर सकते है।

RTGS transactions की minimum और maximum limit क्या है ?

RTGS transactions के माध्यम से आप कम से कम 2 लाख रूपये ट्रान्सफर कर सकते हैं, लेकिन अधिकतम की कोई लिमिट नहीं है।

क्या RTGS transaction को advance में schedule किया जा सकता है?

हाँ, बिल्कुल आप 3 दिन पहले advance में schedule कर सकते है।

Conclusion

उम्मीद है अब आपको समझ आ गया होगा कि “RTGS क्या है” और इसके द्वारा आप कैसे बहुत ही आसानी से और कम समय में बड़ी से बड़ी राशि तरफ कर सकते है। इस आर्टिकल में हमने RTGS से सम्बन्धित सभी महत्वपूर्ण जानकारी दे दी है। फिर भी यदि आपके मन में अभी भी आरटीजीएस को लेकर कोई सवाल हो, तो आप कमेन्ट बॉक्स में कमेन्ट करके पूछ सकते है। इसके साथ ही यह भी बताए की आपको यह आर्टिकल कैसा लगा।

Share It

Leave a Reply