E Wallet क्या है? ई वॉलेट का उपयोग एवं फायदे क्या है?

You are currently viewing E Wallet क्या है? ई वॉलेट का उपयोग एवं फायदे क्या है?

सरकार देश में कैशलेस लेनदेन को प्रोत्साहित करने के लिए निजी कम्पनियों के साथ मिलकर कई तरह की योजनाएँ बना रही है और इसके लिए तरह-तरह के एप्स और सॉफ्टवेयर्स भी इंटरनेट पर उपलब्ध है। E-Wallet कैशलेस लेनदेन करने का एक सबसे अच्छा तरीका है। क्या आप जानते हैं, E Wallet kya hai?

अगर नहीं तो यह आर्टिकल आपके लिए बहुत उपयोगी है। आपके लिए यह जानना बेहद आवश्यक है कि ई वॉलेट क्या है और यह कैसे काम करता है, क्योंकि आजकल हर जगह डिजिटल लेनदेन को प्राथमिकता दी जाती है। अगर आपको E Wallet/Digital Wallet के बारे में जानकारी होगी, तभी आप इसका उपयोग कर सकते है। इस आर्टिकल में Digital Wallet in hindi से जुडी सभी जानकारी जैसे E Wallet क्या है, ई वॉलेट कितनी तरह के होते है, ई वॉलेट कैसे काम करते है आदि के बारे में बताया गया है। लेकिन इससे पहले कि आप जाने E Wallet क्या होता है?

E Wallet क्या है? (What is E wallet in Hindi)

ई वॉलेट को digital wallet, virtual wallet और prepaid wallet के नाम से भी जाना जाता है। एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक कार्ड है। इसका उपयोग पैसों के ऑनलाइन लेनदेन के लिए किया जाता है। यह वर्चुअल होते है, इनका यूज केवल डिजिटल रूप में ही किया जा सकता है। यह उसी तरह बिल्कुल उसी प्रकार काम करते हैं, जैसे कि डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड।

लेकिन जैसा की अभी हमने बताया कि यह वर्चुअल होते हैं। मतलब कि आप इन्हें डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड की देख या छू नहीं सकते हैं, क्योंकि इनका फिजिकली कोई अस्तित्व नहीं होता है। आप स्मार्टफोन या कम्प्यूटर के जरिए ही इसका यूज कर सकते हैं। ई-वॉलेट यूजर के बैंक खाते से लिंक होते हैं। इस तरह आप अपने ई-वॉलेट के माध्यम से जो भी लेन-देन करते हैं, उस राशि का भुगतान आपके बैंक अकाउंट से ही होता है।

ई-वॉलेट एक तरह का प्रीपेड अकाउंट होता है, इस अकाउंट में यूजर ऑनलाइन लेनदेन करने के लिए अपना पैसा जमा करके रख सकता है। इसका एक पासवर्ड होता है, जो आपके अकाउंट को सुरक्षित रखता है। इस डिजिटल वॉलेट का उपयोग आप रेल, बस या फ्लाइट टिकट करने में, ऑनलाइन खरीदारी करने में अथवा किसी भी तरह का ऑनलाइन भुगतान करने के लिए कर सकते हैं। इससे पहले की आप E Wallet के बारे में ओर जाने आपको ई वॉलेट की फुल फॉर्म पता होनी चाहिए। तो आइये जानते है, E Wallet की फुल फॉर्म क्या है?

Full Form of E Wallet in Hindi

E-Wallet की फुल फॉर्म Electronic Wallet (इलेक्ट्रॉनिक वॉलेट) होती है।

ई वॉलेट के प्रकार क्या है? (Types of E Wallet in Hindi)

E Wallet जिन्हें Digital Wallet भी कहा जाता है, अलग-अलग प्रकार के होते हैं। विभिन्न क्षेत्रों में ऑनलाइन लेनदेन करने के लिए विभिन्न प्रकार के E Wallet/Digital Wallet का उपयोग किया जाता है। E Wallet के सभी प्रकार निम्नलिखित है।

1. Banking E-Wallet

Banking E-Wallet को Open Wallet के नाम से भी जाना जाता है। आप नाम से ही समझ गए होंगे कि यह e-wallet यूजर के बैंक खाते से जुड़ा होता है और इसके द्वारा किए गए सभी लेन–देन आपके बैंक खाते से जुड़े होते है। ओपन वॉलेट ई वॉलेट का उपयोग बैंक अकाउंट या एटीएम से पैसे निकालने या ट्रान्सफर करने के साथ-साथ सेमी-क्लोज्ड वॉलेट के सभी लेन-देन के लिए किया जाता है। भारत में ऐसे बहुत से ओपन वॉलेट उपलब्ध है, Pay Zapp by HDFC Bank, M-Pesa by Vodafone and ICICI bank आदि ओपन वॉलेट के ही उदाहरण है।

2. Closed E-Wallet

Closed E-Wallet का यूज मुख्य रूप से e-commerce website में किया जाता है जहाँ पर customer आसानी से अपने जरुरत के सामान की खरीदारी कर सके। यूजर Closed E-Wallet का उपयोग केवल वॉलेट जारीकर्ता के साथ लेनदेन करने के लिए ही कर सकते हैं। अगर कोई return या refund मिलता है, तो वह धनराशि वॉलेट में जमा हो जाती है। Amazon Pay closed e-wallet का ही एक उदाहरण है।

3. Semi-Closed E-Wallet

semi Closed E-Wallet का उपयोग हम हर platform में payment भरने के लिए कर सकते हैं। इसमें एक निश्चित रकम (fixed) रखी जा सकती है लेकिन इसमें से हम किसी भी तरह का cash नहीं निकाल सकते हैं। इस प्रकार के वॉलेट को शुरू करने और संचालित करने के लिए आरबीआई की मंजूरी की आवश्यक होती है। इनका उपयोग न केवल ऑनलाइन बल्कि ऑफलाइन लेनदेन करने के लिए भी किया जा सकता है। Paytm Wallet, Phone Pay, mRupee, Airtel Money, SBI Buddy, Freecharge Wallet, Citrus Wallet, Mobikwik Wallet, Oxigen आदि Semi-Closed eWallets के उदाहरण है।

आइये अब जानते है, ई-वॉलेट या डिजिटल वॉलेट कैसे काम करता है?

ई-वॉलेट कैसे काम करता है? (How E Wallet Works in Hindi)

ई-वॉलेट एक डिजिटल भुगतान प्रणाली पर काम करता है। इसकी सहायता से आप कभी भी कही पर भी पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। यह बेहद तेज व सुविधाजनक होता है। ई-कॉमर्स कम्पनियाँ व विभिन्न प्रकार व्यवसाय भी भुगतान करने के लिए ई-वॉलेट का ही यूज करते हैं। डिजिटल वॉलेट/ई-वॉलेट बनाने के लिए आपको ऊपर बताए गए ई-वॉलेट के प्रकार में से आप जिस प्रकार का ई-वॉलेट बनाना चाहते है, उस प्रकार के ई-वॉलेट को चुनकर उस पर अकाउंट बनाना होता है।
हर प्रकार के ई-वॉलेट के लिए कई सॉफ्टवेयर्स व एप्स मौजूद है। अकाउंट बनाने के बाद आपको इस पर अपनी जानकारी दर्ज करके पंजीकरण करना होता है। आप अपने ई-वॉलेट को अपने बैंक खाते से भी लिंक कर सकते हैं और अपने डेबिट कार्ड व क्रेडिट कार्ड को अपने वॉलेट में संग्रहीत कर सकते है। जब यह प्रक्रिया पूरी हो जाती है तो आप अपने ई-वॉलेट का उपयोग कर सकते हैं। ई-वॉलेट के अनेक प्रकार है और विभिन्न प्रकार के डिजिटल वॉलेट से ट्रांजेक्शन करने के लिए विभिन्न तकनीकों का उपयोग किया जाता है।

Near Field Communication (NFC)

NFC तकनीक में दो उपकरणों को एक दूसरे के पास रखकर सूचनाओं का आदान-प्रदान किया जाता है। Google Pay और Apple Pay जैसे डिजिटल वॉलेट इसके उदाहरण है। इसमें इसे तकनीक के जरिए पैसे का ट्रांजेक्शन किया जाता है। इस प्रकार के ई-वॉलेट का उपयोग करने के लिए व्यापारी के पास compatible card reader होना चाहिए। ताकि ग्राहक उसे स्कैन करके अपना पेमेन्ट कर सके।

Magnetic Secure Transmission (MST)

Samsung Pay से ट्रांजेक्शन करने में MST व NFC दोनों प्रकार की तकनीक का उपयोग किया जाता है। इस तकनीक में सूचनाओं का आदान-प्रदान करने के लिए ऐसा उपकरण काम में लिया जाता है, जिसमें चुंबकीय पट्टी लगी होती है। जब आप अपने उपकरण को उस उपकरण के चुंबकीय क्षेत्र के पास में स्वाइप करके ट्रांजेक्शन किया जाता है।

QR codes

QR codes एक तरह के barcodes होते हैं। इन्हें आप अपने स्मार्टफोन से स्कैन करके भुगतान कर सकते हैं। PayPal app, Paytm app में मनी टांजेक्शन के लिए इसी तरह की तकनीक का उपयोग किया जाता है।

E Wallet का उपयोग क्या हैं? (Digital Wallet Uses in Hindi)

E Wallet/Digital Wallet का उपयोग आप हर उस जगह कर सकते है, जहाँ कैशलेस लेनदेन किया जाता हो। यहाँ हमने ऐसी ही जगहों के बारे में बताया गया है, जहाँ आप डिजिटल लेनदेन के लिए डिजिटल वॉलेट का उपयोग कर सकते है।

  • जहाँ भी आप ऑनलाइन/कैशलेस/डिजिटल भुगतान करना चाहते हैं और कर सकते हैं, वहां आप डिजिटल वॉलेट का उपयोग करके ऑनलाइन पेमेंट कर सकते हैं।
  • e-commerce websites से ऑनलाइन शॉपिंग करने के लिए।
  • electricity bills, telephone bills और इसी प्रकार के अन्य बहुत सारे utility bills भरने के लिए।
  • prepaid recharge, dish tv recharge, FASTag आदि सभी प्रकार के रिचार्ज करने के लिए।
  • mutual funds और insurance जैसे अन्य financial लेनदेन के लिए।
  • इसके movie tickets booking, food order करने के लिए।
  • ऐसे हर काम के लिए जो ऑनलाइन हो रहा है, वहाँ आप Digital wallets/E-Wallet का इस्तमाल कर सकते हैं। केवल ऑनलाइन ही नहीं बल्कि आप इन-स्टोर भी इनका यूज कर सकते हैं।

अपना डिजिटल वॉलेट कैसे सेट करें?

  • सबसे पहले कोई एक मोबाइल पेमेंट ऐप डाउनलोड कर लें।
  • अब इसे ओपन करके मांगी गई जानकारी अपलोड करें।
  • बस इस तरह आप आसानी से अपना डिजिटल वॉलेट अकाउंट बना सकते हैं।

ई वॉलेट के फायदे क्या है?

ई वॉलेट यूज करने के कई सारे फायदे है, इनके बारे में नीचे बताया गया है।

  • ई वॉलेट का उपयोग करने पर कई बार cash back and rewards भी मिलते है।
  • डिजिटल वॉलेट ऑनलाइन लेनदेन को आसान बनाता है।
  • ई-वॉलेट का उपयोग करने से भौतिक वॉलेट और कार्ड रखने आवश्यकता नहीं होती है।
  • ई वॉलेट में यूजर की भुगतान से सम्बन्धित सभी जानकारी एक कॉम्पैक्ट के रूप में संग्रहीत की जाती है और इसका एक पासवर्ड भी होता है, जो इसे सुरक्षा प्रदान करता है।
  • ई वॉलेट का उपयोग करने से देश की वैश्विक वित्तीय बाजार में भी भागीदारी बढ़ेगी।
  • क्रिप्टोकरेंसी में भी डिजिटल वॉलेट बहुत महत्वपूर्ण होता है, क्रिप्टोकरेंसी का लेनदेन इसी प्रकार के डिजिटल वॉलेट द्वारा किया जाता है।
  • ई वॉलेट के जरिए बैंक अकाउंट खोलने में भी मदद मिलती है।
  • डिजिटल वॉलेट का उपयोग कर आप अन्य देशों में रहने वाले मित्रों के साथ भी धन हस्तांतरित करने की अनुमति देता है।
  • डिजिटल वॉलेट द्वारा आप अपने पुराने ट्रांजेक्शन रिकॉर्ड को भी देख सकते हैं।
  • कोई कम्पनी डिजिटल वॉलेट की सहायता से अपने ग्राहकों का डाटा एकत्रित कर आप अपने व्यवसाय की मार्केटिंग भी आसानी से कर सकते हैं।
  • इससे किसी व्यवसाय को उससे ग्राहकों को समझ सकते हैं और सर्वे में भी बहुत मदद मिलती है।
  • यदि अपने कोई ऑनलाइन शॉपिंग करी है तो आप इस एप्प की सहायता से उसे ट्रैक भी कर सकते हैं।

ई वॉलेट प्रयोग हेतु ध्यान देने योग्य बातें

यदि आप डिजिटल लेनदेन के लिए किसी भी ई वॉलेट या डिजिटल वॉलेट का उपयोग करते है तो कुछ खास बातों का ख्याल रखना बेहद आवश्यक है। इसलिए जब भी आप डिजिटल वॉलेट के माध्यम से आप ऑनलाइन लेनदेन करें तो नीचे बताई गई बातों का खास ख्याल रखें।

  • डिजिटल वॉलेट का उपयोग करते समय उसे सुरक्षित रखने के लिए कुछ बातों का खास ध्यान रखना चाहिए, जो कि इस प्रकार है
  • अपने डिजिटल वॉलेट अकाउंट के लिए एक मजबूत पासवर्ड रखें।
  • सम्भव हो तो वॉलेट का उपयोग करने के बाद यदि आपको अधिक समय तक इसकी आवश्यकता न पड़े तो आपको अपने वॉलेट अकाउंट से लॉग आउट कर दें। यदि कभी आपका मोबाइल गुम भी हो जाए तो ऐसी स्थिति में कोई आपके वॉलेट का दुरुपयोग न कर पाए।
  • दोगुनी सुरक्षा के लिए अपने डिजिटल वॉलेट एप्प पर ऐप लॉक का इस्तेमाल करें।
  • अपने डिजिटल वॉलेट अकाउंट का ओटीपी या पासवर्ड किसी के साथ शेयर न करें।
  • जहाँ तक सम्भव हो अपनी डिवाइस में ही इसका उपयोग करें।
  • कोई भी Transaction को करते समय मांगी गई सभी जानकारी सही भरें।

FAQ: E Wallet के बारे में सवाल-जवाब

E-Wallet का उपयोग के लिए क्या आवश्यक है?

E-Wallet या Digital Wallet का उपयोग करने के लिए कुछ आपके पास एक स्मार्ट फोन/लेपटॉप /कम्प्यूटर या डिजिटल वॉच, इंटरनेट और एक E-Wallet या Digital Wallet का अकाउंट होना आवश्यक है और एक बैंक अकाउंट यदि आप इसे अपने बैंक अकाउंट से कनेक्ट करना चाहें तो कर सकते हैं।

क्या ई वॉलेट या डिजिटल वॉलेट का इस्तेमाल करना सुरक्षित है?

जी हाँ, डिजिटल वॉलेट का उपयोग कर मनी का ट्रांजेक्शन करना, भौतिक रूप ट्रांजेक्शन से करने की तुलना में कही ज्यादा सिक्योर होता है। बिना पासवर्ड, पिन या ओटीपी के कोई भी आपके वॉलेट का उपयोग नहीं कर सकता है।

क्या ई वॉलेट से ट्रांजेक्शन करने की कोई निर्धारित सीमा होती है?

जी हाँ, अधिकतर डिजिटल वॉलेट या ई वॉलेट द्वारा मनी ट्रांजेक्शन करने के लिए कुछ सीमा निर्धारित होती है। यूजर्स एक महीने में केवल कुछ निश्चित बार ही ट्रांजेक्शन कर सकते हैं।

क्या ई वॉलेट में यूजर बाद में ग्राहक अपना बैंक अकाउंट बदल सकता है?

जैसा कि आप जानते है, ई वॉलेट डिजिटल प्रणाली पर काम करता है तो इसे आप जब चाहें आसानी से अपडेट कर सकते हैं। इसलिए इसे डिजिटल वॉलेट भी कहा जाता है।

क्या डिजिटल वॉलेट से ट्रांजेक्शन करने के लिए कोई चार्ज या ट्रांजेक्शन फीस लगती है?

अधिकतर डिजिटल वॉलेट का उपयोग करने पर आपको कोई चार्ज या ट्रांजेक्शन फीस नहीं देनी होती है, लेकिन कुछ वॉलेट्स के द्वारा ट्रांजेक्शन करने पर आपको कुछ मामूली चार्ज या ट्रांजेक्शन फीस देनी पड़ सकती है।

डिजिटल वॉलेट या ई वॉलेट के उदाहरण क्या है?

Google pay, Paytm, Phonepe, Airtel money, Jio money, MobiKwik आदि डिजिटल वॉलेट या ई वॉलेट के उदाहरण हैं।

Conclusion

तो दोस्तों अब आपको समझ आ गया होगा कि E Wallet kya hai. यह आपके डिजिटल भुगतान हेतु काम आते है। सब आपको कैश रखने की जरूरत नहीं, आप किसी भी डिजिटल वॉलेट या ई वॉलेट का उपयोग कर ऑनलाइन पेमेंट कर सकते है। अगर अभी भी आपके कुछ सवाल है तो आप नीचे कमेंट कर सकते हैं। आपके सवालों के जवाब हम जल्द से जल्द देंगे। ध्यान रहे एंड्रॉयड के बारे में दी गई इस पूरी जानकारी को अपने सहपाठी और मित्रों के साथ अवश्य साझा करें ताकि उन्हें भी कुछ सीखने का मौका मिले। धन्यवाद!

Leave a Reply