PGDCA Course क्या है – योग्यता, फीस, सिलेबस की पूरी जानकारी

  • Post author:
  • Post last modified:सितम्बर 5, 2023
  • Post category:Knowledge
  • Post comments:0 Comments
  • Reading time:21 mins read
PGDCA Kya Hai

क्या आप जानना चाहते हैं, PGDCA Kya Hai अगर हाँ, तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है। आप कई कम्प्यूटर कोर्स के बारे में जानते होंगे। PGDCA भी इसी तरह का कम्प्यूटर कोर्स है। पीजीडीसीए में सर्टिफिकेट और डिप्लोमा अलग-अलग लेवल के दो कोर्स होते हैं। इस आर्टिकल में हमने पीजीडीसीए कोर्स की योग्यता, फीस, अवधि, सिलेबस, एग्जाम और देश-विदेश के टॉप कॉलेज के बारे में भी बताया गया है।

प्राइवेट सेक्टर ही नहीं बल्कि गवर्नमेंट सेक्टर में भी कई ऐसी जॉब्स होती है, जिनमें कम्प्यूटर डिप्लोमा की मांग की जाती है। पीजीडीसीए कोर्स करने के बाद आप इस तरह की जॉब्स के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसलिए इस कोर्स के बारे में जानना आपके लिए आवश्यक है। लेकिन इससे पहले कि हम PGDCA के बारे में ज्यादा जानें पहले हमें PGDCA की फुल फॉर्म के बारे में जानना होगा। तो आइये जानते हैं, PGDCA की Full Form क्या होती है?

PGDCA Full Form क्या है (Full Form of PGDCA in Hindi)

PGDCA की फुल फॉर्म “Post Graduate Diploma in Computer Applications” होती है।

PGDCA का पूरा नाम क्या है (PGDCA Full Form in Hindi)

हिन्दी में PGDCA का पूरा नाम “कम्प्यूटर अनुप्रयोग में स्नातकोत्तर उपाधि” होता है।

PGDCA क्या है (What is PGDCA in Hindi)

PGDCA पोस्ट ग्रेजुएट स्तर का एक कम्प्यूटर डिप्लोमा कोर्स है, जो कि DCA से एक लेवल ऊपर का कम्प्यूटर कोर्स है। पीजीडीसीए कोर्स में आपको कम्प्यूटर से जुड़ी बेसिक जानकारी से लेकर एडवांस लेवल तक की जानकारी प्रदान की जाती है। 

पीजीडीसीए में ऑपरेटिंग सिस्टम, कम्प्यूटर प्रोग्रामिंग, वेब प्रोग्रामिंग लैंग्वेज, सी++, डेटाबेस प्रबंधन प्रणाली, आईटी, इंटरनेट, वेब डिजाइनिंग जैसे कम्प्यूटर एप्लीकेशन और आईटी के सम्बन्धित विषयों के बारे में पढ़ाया जाता है।

वह छात्र जो कम्प्यूटर एप्लिकेशंस में रूचि रखते है, पीजीडीसीए डिप्लोमा कोर्स के जरिए प्रोफेशनल ज्ञान प्राप्त कर सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते हैं। यह सर्टिफिकेट निजी अथवा सरकारी क्षेत्र में एक अच्छी नौकरी प्राप्त करने में सहायक होता है।

PGDCA कोर्स कैसे करें?

PGDCA करने के लिए आपको किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी में प्रवेश लेना होगा। कई यूनिवर्सिटीस में मेरिट लिस्ट के आधार पर तो कई यूनिवर्सिटीस में एंट्रेंस एग्जाम आयोजित करके PGDCA कोर्स में प्रवेश दिया जाता है।

PGDCA कोर्स प्रवेश हेतु कई यूनिवर्सिटीस द्वारा एक वर्ष में एक बार तो कई यूनिवर्सिटीस द्वारा एक वर्ष में दो बार आवेदन निकले जाते है। इन आवेदन के द्वारा उम्मीदवार छात्र PGDCA Admission के लिए अप्लाई कर सकते है।

PGDCA के लिए क्या योग्यता होनी आवश्यक है?

PGDCA एक हाई लेवल कम्प्यूटर डिप्लोमा कोर्स है। कंप्यूटर एप्लीकेशन में पोस्ट ग्रेजुएशन वही छात्र कर सकते है। जिनके पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय स्नातक (ग्रेजुएशन) की डिग्री हो, जैसे कि BA , B.SC ,B.COM., BCA आदि। कुछ यूनिवर्सिटी में ग्रेजुएशन में न्यूनतम अंक 50% मांगे जाते है तो कुछ यूनिवर्सिटी में 45% अंक वाले विद्यार्थियों को प्रवेश मिल जाता है।

पीजीडीसीए कोर्स कितने समय का होता है?

पीजीडीसीए डिप्लोमा कोर्स 1 वर्ष की अवधि का होता है। जिसे 6-6 महीने के दो सेमेस्टर में बांटा गया है। पहले 6 महीने मतलब पहले सेमेस्टर में थ्योरी और बाद के 6 महीने यानि दूसरे सेमेस्टर में प्रैक्टिकल की शिक्षा दी जाती है।

पीजीडीसीए कोर्स की फीस कितनी होती है?

PGDCA Course Fees सभी संस्थानों में अलग-अलग होती है। पोस्ट ग्रेजुएशन डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन (PGDCA) की अनुमानित फीस 7000 रु से 60000 रु तक या उससे भी ज्यादा हो सकती है।

जानिए O Level क्या है और इससे जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी: O Level Kya Hai, कैसे करें पूरी जानकारी हिंदी में

पीजीडीसीए कोर्स का पाठ्यक्रम क्या है (PGDCA Course Syllabus in Hindi)

पीजीडीसीए के सिलेबस में अलग-अलग यूनिवर्सिटी के हिसाब से थोड़ा बहुत अन्तर देखने को मिल जाता है। लेकिन कुछ टॉपिक ऐसे होते है, जिन्हें अधिकांशतः यूनिवर्सिटी अपने पाठ्यक्रम में सम्मिलित करती है। जैसे कि Database Management System, Operating System, Project Work, Tally, Fundamentals of Computer, MS Office, Internet & E-commerce, Programming , MS Access, Web Designing, Information Technology, Software Development आदि।

जैसा कि हमने आपको पहले बताया पीजीडीसीए कोर्स के पाठ्यक्रम को दो सेमेस्टर में विभाजित किया गया है। ऊपर बताए गए सभी टॉपिक्स को इन दोनों सेमेस्टर्स में बांटा जाता है, जो कि कुछ इस प्रकार है।

 PGDCA Semester 1

  • कंप्यूटर फंडामेंटल्स
  • एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर पैकेजेस
  • प्रोग्रामिंग इन ‘C’
  • कंप्यूटर आर्गेनाईजेशन एंड आर्किटेक्चर
  • सिस्टम एनालिसिस एंड डिज़ाइन  

PGDCA Semester 2

  • विजुअल बेसिक
  • जावा
  • DBMS
  • डेटा संरचना और एल्गोरिदम
  • PPM और OB
  • प्रोजेक्ट्स
  • व्यावहारिक कार्य

आइए अब जानते है, पीजीडीसीए का कोर्स करने के बाद आप किस फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं।

पीजीडीसीए के बाद करियर

PGDCA करने के बाद आपको कम्प्यूटर की बहुत अच्छी जानकारी हो जाती है। आप कम्प्यूटर से जुड़े विभिन्न क्षेत्रों में अपना कॅरियर बना सकते है। आप किसी निजी संस्था में प्रोग्रामर, कंप्यूटर ऑपरेटर, ऑफिस असिस्टेंट, डाटा एंट्री ऑपरेटर, बेसिक प्रोग्रामर टीचर अकाउंटेंट आदि पोस्ट पर जॉब कर सकते है। अपना खुद का व्यवसाय जैसे कोई ई-मित्र सेन्टर अथवा कोई कोचिंग सेन्टर शुरू कर सकते है।

इसके अलावा आप चाहें तो एक freelancer के रूप में software developer, web designer, website developer जैसे काम कर सकते हैं। यही नहीं अगर आप पीजीडीसीए कोर्स कर लेते है तो सरकारी नौकरी में भी यह आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है। 

जानिए CCC Course से जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी: CCC क्या होता है? CCC की फीस, पात्रता और फायदे क्या हैं?

पीजीडीसीए कोर्स के लिए कैसे आवेदन करें?

PGDCA Course करने के लिए आप किसी भी कॉलेज में आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आप सम्बन्धित कॉलेज की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं। कॉलेज के अलावा आप इंडियन गवर्नमेंट की वेबसाइट iisdt से भी अपना कोर्स पूरा कर सकते हैं।

iisdt का पूरा नाम Indian Institute Of Skill Development Training होता है। कौशल विकास प्रशिक्षण और व्यावसायिक शिक्षा स्वायत्त संगठन आईएसओ (ISO) प्रमाणित सरकार द्वारा पंजीकृत है। अगर आप PGDCA कोर्स में एडमिशन लेने के ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है, तो आपको नीचे बताए गए स्टेप्स को फॉलो करें।

  • PGDCA कोर्स में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले अपने ब्राउजर में iisdt लिखकर सर्च करें।
PGDCA Kya Hai
  • अब सबसे ऊपर दिख रही भारतीय कौशल विकास शिक्षण संस्थान की आधिकारिक वेबसाइट https://iisdt.in को ओपन करें।
PGDCA in Hindi
  • अब होम पेज पर ऊपर की ओर दिख रहे 3 horizontal lines वाले बार पर क्लिक करें।
PGDCA Course Online Apply
  • इसके बाद Courses के ऑप्शन पर क्लिक करें।
PGDCA Course
  • अब स्क्रीन पर दिख रहे PGDCA Course के लिंक पर क्लिक करें।
PGDCA Full Form
  • फिर “Enroll Now” के बटन पर क्लिक करें।
PGDCA Course Details in Hindi
  • अब वापस “Continue Enrollment” के बटन पर क्लिक करके अपना एनरोलमेंट जारी रखें। इसी पेज पर आपको इस कोर्स की फीस के बारे में भी बता दिया जाता है।
PGDCA Course Fees
  • Enroll Continue करते ही आपकी स्क्रीन पर एक रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन होगा। अब फॉर्म में मांगी गई सभी डिटेल्स को सावधानी पूर्वक भरें। इसके लिए नीचे बताई गई स्टेप्स फॉलो करें।
    • First name – सबसे पहले First name वाले बॉक्स में अपना नाम भरें।
    • Last name – फिर लास्ट नेम वाले बॉक्स में अपना सरनेम भरें।
    • Country/Region – अब अपने देश को सेलेक्ट करें।
    • Street address – इस बॉक्स में अपना एड्रेस टाइप करें।
    • Town/City – यहाँ अपने शहर का नाम भरें।
    • State – इसमें अपने राज्य का नाम भरें।
    • Pin Code – अपने शहर का पिन कोड भरें।
    • Phone – इस बॉक्स में अपना मोबाइल नंबर भरें।
    • Email address – यहाँ पर अपना ईमेल आईडी एड्रेस भरें।
    • Create an account – अन्त में “Create an account” के बॉक्स पर क्लिक करें।
PGDCA Course Online Ragistration in Hindi
  • सभी डिटेल्स को भरने के बाद उसे वापस सही से चेक करने के बाद भरने के बाद कोर्स फीस का ऑनलाइन भुगतान करें।
PGDCA Course ke liye Online Apply Kaise Kare

फीस का भुगतान होने के बाद आपका PGDCA Course का रजिस्ट्रेशन पूरा हो जाएगा। इस तरह से आप पीजीडीसीए कोर्स सर्टिफिकेट के लिए एडमिशन हेतू ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं और घर बैठे अपना कोर्स पूरा कर सकते हैं। कोर्स पूरा करने के बाद आपको iistd की तरफ से एक मान्यता प्राप्त डिप्लोमा दिया जाता है, जो आपके जॉब में भी काम आता है।

जानिए CET Exam क्या है और इससे जुड़ी सभी आवश्यक जानकारी के बारे में: CET Exam 2023: जानें CET Kya Hai और CET से जुड़ी सभी जानकारी के बारे में।

पीजीडीसीए कोर्स करने के मुख्य फायदे (Benefits of PGDCA Course)

PGDCA करने के बहुत सारे फायदे है। पीजीडीसीए एक हाई लेवल कम्प्यूटर कोर्स है अगर आप इसे करते है तो यह आपके कॅरिअर के लिए बहुत फायदेमंद साबित होता है। आइये जानते है, पीजीडीसीए के ऐसे ही कुछ फायदों बारे में।

  • PGDCA करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि PGDCA Course करने के बाद आप निजी क्षेत्र में ही नही बल्कि सरकारी क्षेत्र में भी नौकरी पाने के अवसर बढ़ जाते है।
  • PGDCA करने के बाद आपको इतनी जानकारी हो जाती है कि आप खुद का ई-मित्र सेन्टर या फिर कम्प्यूटर कोचिंग क्लास शुरू कर सकते हैं।
  • PGDCA करने के बाद आपकी कम्प्यूटर स्किल्स काफी अच्छी जाती है और आप जिस software developing, web designing, website developing आदि फिल्ड में freelancer के रूप में भी काम कर सकते हैं।
  • कई यूनिवर्सिटी पीजीडीसीए डिप्लोमा करने के बाद MBA अथवा MCA में सीधा प्रवेश करने की अनुमति देती है।
  • पीजीडीसीए कोर्स करने के बाद आपको कम्प्यूटर की बेसिक से लेकर हाई लेवल की अच्छी-खासी जानकारी हो जाती और आप एक कम्प्यूटर एक्सपर्ट बन जाते है।

जो छात्र कम्प्यूटर में रूचि रखते है और इसी से सम्बन्धित क्षेत्र में कॅरियर बनाना चाहते है, उनके लिए यह कोर्स बहुत फायदेमंद साबित होता है।

पीजीडीसीए कोर्स के लिए टॉप फॉरेन यूनिवर्सिटी

नीचे हमने पीजीडीसीए कोर्स कराने वाले विदेश के टॉप यूनिवर्सिटी की लिस्ट दी है।

  • येल यूनिवर्सिटी
  • हार्वर्ड यूनिवर्सिटी
  • ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी
  • स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी
  • यूनिवर्सिटी ऑफ टोरंटो
  • इंपीरियल कॉलेज लंदन
  • यूनिवर्सिटी ऑफ डर्बी
  • यूनिवर्सिटी ऑफ केंट
  • यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन
  • लंदन मेट्रोलोपियन यूनिवर्सिटी
  • यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया बर्कले
  • कैलिफोर्निया इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
  • मैसाचुसेट्स इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी

PGDCA Course के लिए टॉप भारतीय कॉलेज

भारत में बहुत सारे ऐसे कॉलेज हैं, जहाँ से आप अपना पीजीडीसीए कोर्स पूरा कर सकते हैं। भारत में पीजीडीसीए कोर्स कराने वाले टॉप यूनिवर्सिटीज की लिस्ट नीचे दी गई है।

  • महाराजा सयाजीराव यूनिवर्सिटी, बड़ौदा
  • छत्रपति साहू जी महाराज यूनिवर्सिटी, कानपुर (यूपी)
  • पंजाबी यूनिवर्सिटी, पटिआला
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम यूनिवर्सिटी, इंदौर
  • ITM यूनिवर्सिटी, ग्वालियर
  • डॉ. बीआर अम्बेडकर यूनिवर्सिटी, आगरा
  • अलाहाबाद यूनिवर्सिटी, अलाहाबाद (यूपी)
  • सिंघानिया यूनिवर्सिटी, झुंझुनू
  • जेएस यूनिवर्सिटी, शिकोहाबाद
  • कलिंगा यूनिवर्सिटी, रायपुर
  • गुरु नानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर
  • ओपीजेएस यूनिवर्सिटी, राजगढ़
  • साबरमती यूनिवर्सिटी, अहमदाबाद
  • JMI नई दिल्ली – जामिया मिल्लिया इस्लामिया
  • जोधपुर नेशनल यूनिवर्सिटी, जोधपुर
  • करियर प्वाइंट यूनिवर्सिटी, कोटा
  • महाराजा गंगा यूनिवर्सिटी, बीकानेर
  • माधव यूनिवर्सिटी, सिरोही
  • यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्नोलॉजी, जयपुर
  • अपैक्स यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • ज्योति विद्यापीठ वीमेन यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • महात्मा ज्योति राओ फूले यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • जगन्नाथ यूनिवर्सिटी, जयपुर
  • संगम यूनिवर्सिटी, भीलवाड़ा
  • जनार्दन राय नागर राजस्थान विद्यापीठ यूनिवर्सिटी, उदयपुर
  • मौलाना आजाद यूनिवर्सिटी, उदयपुर
  • भगवंत यूनिवर्सिटी, अजमेर
  • मेवाड़ यूनिवर्सिटी, चित्तोडगढ़
  • श्रीधर यूनिवर्सिटी, पिलानी
  • इग्नू

आइये अब जानते हैं, कि कौन-कौनसे एंट्रेंस एग्जाम के जरिये आप इन कॉलेजों में पीजीडीसीए कोर्स के लिए दाखिला ले सकते हैं।

भारत में होने वाले पीजीडीसीए एंट्रेंस एग्जाम

नीचे हमने विभिन्न कॉलेजों द्वारा आयोजित किए जाने वाले कुछ एंट्रेंस एग्जाम के बारे में बताया है, जिन्हें पास करके आप भारत के विभिन्न कॉलेजों में अपने पीजीडीसीए कोर्स को पूरा कर सकते हैं। इस तरह के एंट्रेंस एग्जाम में मेरिट लिस्ट के आधार पर स्टूडेंट्स चयन किया जाता है।

  • BHU Entrance Exam
  • IGNOU PGDCA Entrance Exam
  • DUET (Delhi University Entrance Test)
  • NEST (National Entrance Screening Test)
  • Madras Christian College Entrance Exam
  • JMI EE (Jamia Millia Islamia Entrance Exam)
  • GITAM (The Gandhi Institute of Technology and Management) GAT (General Achievement Test)
  • IISER (Indian Institute of Science Education and Research Thiruvananthapuram)

PGDCA के बारे में अन्तिम राय

तो दोस्तों, उम्मीद हैं, कि अब आपको समझ आ गया होगा कि PGDCA kya hai, साथ ही आपको इस कोर्स का पाठ्यक्रम, फीस, अवधि के बारे में और PGDCA के फायदे के बारे में भी बताया गया है। साथ ही अब आपको इस बात की भी जानकारी हो गई होगी कि आप किस तरह से इस कोर्स को पूरा कर सकते हैं। उम्मीद है, इस पोस्ट में दी गई जानकारी आपके लिए बेहद उपयोगी होगी।

आपको हमारी यह पोस्ट कैसी लगी, कमेन्ट करके जरूर बताए और अगर आपके मन में अभी भी कोई सवाल हो तो उसे भी कमेन्ट करके पूछ सकते हैं। हमारी पूरी कोशिश रहती है कि हम आपके सभी सवालों का जवाब दे सकें और ऐसी ही नई जानकारी प्राप्त करने के लिए फॉलो करें हमारे ब्लॉग Fly Hindi को, धन्यवाद !

FAQ: PGDCA Course से जुड़े सवाल-जवाब

  1. पीजीडीसीए कोर्स है?

    PGDCA का पूरा नाम “Post Graduate Diploma in Computer Applications” है।

  2. पीजीडीसीए कोर्स की अवधि और फीस कितनी होती है?

    पीजीडीसीए कोर्स लगभग एक साल की अवधि का होता है और इसकी फीस 7000 रु से 60000 रु तक या फिर उससे भी ज्यादा हो सकती है।

  3. फॉरेन यूनिवर्सिटीमें PGDCA कोर्स में एडमिशन पाने के लिए कौन-कौनसे एंट्रेंस एग्जाम देने होते है?

    फॉरेन यूनिवर्सिटी में PGDCA कोर्स में एडमिशन पाने के लिए GMAT, GRE, IELTS, TOEFL और PTE जैसे एंट्रेंस एग्जाम क्लियर करने होते है।

  4. पीजीडीसीए कोर्स करने के बाद किन कम्पनियों में जॉब प्राप्त की जा सकती है?

    पीजीडीसीए कोर्स की डिग्री प्राप्त करने के बाद आप अमेजॉन, टाटा मोटर्स, मारुती सुजुकी, Amazon, Tata Motors, State Bank of India, Maruti Suzuki, HCL Ltd जैसी प्रसिद्ध कम्पनियों में जॉब प्राप्त कर सकते है।

  5. PGDCA और DCA में क्या अन्तर है?

    PGDCA एक पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्स है, इसे ग्रेजुएशन के बाद किया जा सकता है, जबकि DCA कोर्स एक ऐसा डिप्लोमा कंप्यूटर एप्लीकेशन कोर्स है, जो 12th के बाद किया जाता है।

Share It

Jay Kanwar

Jay Kanwar is an professional blogger. She loves reading and learning new tech. She contributes most of the tech and informative articles on this blog.